scorecardresearch
 
लाइफस्टाइल न्यूज़

Diabetes: नींद से जागते ही पहचानें डायबिटीज का वॉर्निंग साइन, आपको तो नहीं ये दिक्कत?

नींद से जागते ही पहचानें डायबिटीज का ये वॉर्निंग साइन
  • 1/7

टाइप-2 डायबिटीज एक बेहद खतरनाक बीमारी है. आमतौर पर इसके लक्षण तब तक नजर नहीं आते, जब तक ब्लड लगातार हाई लेवल पर न हो. ये बेहद चिंताजनक है, क्योंकि हाई ब्लड शुगर का लेवल लगातार बढ़े रहने से हार्ट डिसीज का खतरा बढ़ सकता है. हालांकि, शरीर में कुछ बेहद छोटे बदलाव टाइप-2 डायबिटीज (Diabetes Type-2) के खतरे का संकेत (Diabetes Warning Sign) दे सकते हैं. सुबह नींद से जागने पर आपको इसके कुछ लक्षण भी दिखाई दे सकते हैं.

डायबिटीज 1
  • 2/7

डायबिटीज, लिपिड डिसॉर्डर और एंडोक्रिनोलॉजी में कंसल्टेंट डॉ. राल्फ अब्राहम ने Express.co.uk से बातचीत में डायबिटीज के कुछ खास संकेतों को उजागर किया है. डॉ. अब्राहम के मुताबिक, मुंह का सूखना इसका एक मजबूत लक्षण हो सकता है. अगर आप रात में बार-बार पेशाब के लिए उठे हों या बहुत ज्यादा प्यास लगी हो तो आपको कुछ गड़बड़ जरूर महसूस होगी.'

डायबिटीज 2
  • 3/7

उन्होंने बताया, प्यास और डायबिटीज में बहुत ज्यादा पेशाब खून में ग्लूकोज की मात्रा बढ़ने की वजह से होता है. डॉ. अब्राहम ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर सुबह के वक्त आपका मुंह और गला सूखता है तो आपको अलर्ट हो जाना चाहिए. ये टाइप-2 डायबिटीज का एक संकेत हो सकता है.

डायबिटीज 3
  • 4/7

डॉ. अब्राहम के मुताबिक, टाइप-2 डायबिटीज के और भी कई छोटे-मोटे लक्षण होते हैं जिसकी वजह से इस बीमारी को 'साइलेंट किलर' कहा जाता है. इसमें थकान, उबासी आना, आंखों में धुंधलापन, सेक्स से जुड़ी समस्याएं, छोटे घावों का देरी से भरना, फंगल इंफेक्शन और शरीर पर दाने या फोड़े निकलने जैसे लक्षण शामिल हैं.

Photo Credit: svetlana

डायबिटीज 4
  • 5/7

नेशनल हेल्थ सर्विस के मुताबिक, अगर आपको टाइप-2 डायबिटीज के लक्षण नजर आ रहे हैं और इसे लेकर आप चिंतित हैं तो आपको तुरंत जनरल प्रैक्टिशनर से इसकी जांच करवा लेनी चाहिए. जनरल प्रैक्टिशनर इस बीमारी को पकड़ सकता है. इसके लिए एक ब्लड टेस्ट रिपोर्ट की जरूरत होगी, जिसके लिए आपको अपने स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र पर भी जाना पड़ सकता है.

डायबिटीज 5
  • 6/7

बीमारा का पता लगने के बाद आपको ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल रखने के लिए लाइफस्टाइल में बदलाव की सलाह दी जा सकती है. ब्लड शुगर मैनेजमेंट में डाइट का एक खास रोल होता है और तकनीकी रूप से ऐसा कुछ भी नहीं है जो आप नहीं खा सकते हैं. हालांकि, आपको कार्बोहाइड्रेड के सेवन पर कंट्रोल रखना पड़ेगा जो ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाने का काम करता है.

Photo Credit: Getty Images

डायबिटीज 6
  • 7/7

कार्बोहाइड्रेट शरीर में जल्दी टूट जाती है और इसीलिए इससे ब्लड शुगर लेवल तेजी से बढ़ता है. इसके लिए कॉम्प्लैक्स कार्ब्स एक अच्छा और सुरक्षित विकल्प है. दरअसल कॉम्प्लैक्स कार्ब्स स्टार्च हैं, जो कार्ब्स की तुलना में कम तेजी से टूटता है और इसी वजह से ब्लड शुगर कंट्रोल रहती है.