scorecardresearch
 

विटामिन-डी की कमी से बुजुर्गों में हो सकता है ये खतरा

विटामिन-डी अच्छी सेहत के लिए बहुत जरूरी होता है. बुजुर्गों में विटामिन डी की कमी होने से उनकी सेहत पर बहुत ज्यादा असर पड़ता है.

प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो

विटामिन-डी की कमी से बुजुर्गों में अवसाद का खतरा बढ़ जाता है. यह बात हालिया एक शोध से उजागर हुई है. बता दें कि विटामिन-डी का मुख्य स्रोत सूर्य की किरणें हैं. ऐसे में बुजुर्गों को सूर्य के प्रकाश से दूर रखने से उनमें अवसाद का खतरा बढ़ सकता है.

शोध में पाया गया है कि विटामिन-डी की कमी से अवसाद का खतरा 75 फीसदी बढ़ जाता है. आयरलैंड के डबलिन विश्वविद्यालय के शोधकर्ता ईमोन लैर्ड ने बताया, "शोध में पाया गया कि विटामिन-डी का संबंध हड्डी के अलावा स्वास्थ्य संबंधी अन्य दशाओं से भी है. हैरानी की बात यह है कि इसकी कमी का असर अवसाद पर भी होता है."

उन्होंने बताया, "परामर्श के अनुसार, विटामिन-डी का सेवन सुरक्षित है और अपेक्षाकृत सस्ता भी है. इस शोध में विटामिन-डी से स्वास्थ्य को होने वाले फायदे के प्रमाण मिलते हैं."

पोस्ट एक्यूट एंड लांग टर्म केयर मेडिसिन नामक जर्नल में प्रकाशित इस शोध में 50 से अधिक उम्र के 4,000 लोगों को शामिल किया गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें