scorecardresearch
 

चुनावी चर्चा के बीच छाई मुलेठी, जानें इसे खाने के 10 फायदे...

इन दिनों एक चीज अचानक आयुर्वेद के पन्ने से निकलकर आम लोगों की जुबान पर चढ़ गई है. दिल्ली में चुनाव और इसके नतीजों के बीच जितनी बार किरण बेदी की चर्चा हुई, उससे कहीं ज्यादा बार लोगों ने 'मुलेठी' और इसके संभावित असर को याद किया.

गुणों से भरपूर मुलेठी गुणों से भरपूर मुलेठी

इन दिनों एक चीज अचानक आयुर्वेद के पन्ने से निकलकर आम लोगों की जुबान पर चढ़ गई है. दिल्ली में चुनाव और इसके नतीजों के बीच जितनी बार किरण बेदी की चर्चा हुई, उससे कहीं ज्यादा बार लोगों ने 'मुलेठी' और इसके 'संभावित' असर को याद किया.

दरअसल, एक इंटरव्यू के दौरान किरण बेदी गर्म पानी से भरे ग्लास के साथ नजर आईं. पूछने पर उन्होंने कहा कि ज्यादा भाषण देने की वजह से उनका गला इन दिनों ज्यादा सूखता है, इसलिए वे गर्म पानी पीती हैं. जब उन्हें मुलेठी का सेवन करने की नसीहत दी गई, तो उन्होंने कहा कि वे मुलेठी रखती हैं. पब्लि‍क को जब तक किरण बेदी की बाकी बातें हजम होतीं, उससे पहले ही मुलेठी अपना 'असर' दिखला चुकी थी.

कई सियासी 'गपोड़शंखों' ने कहा कि अगर दिल्ली के घर-घर में बीजेपी उम्मीदवारों की उतनी पैठ होती, जितनी मुलेठी की है, तो नतीजे कुछ और होते...बहरहाल, मुलेठी जब चर्चा में है, तो सेहत पर इसके असर पर गौर फरमाना भी लाजिमी ही है.

क्या है मुलेठी:
मुलेठी एक फायदेमंद वनस्पति है, जिसका उपयोग कई रोगों के इलाज में होता है. इसका पौधा करीब 6 फुट तक लंबा होता है. यह बाहर से भूरी, पर अंदर से पीली नजर आती है. एक बार जमीन से उखाड़ लेने के बाद करीब 2 साल तक दवा के तौर पर इसका इस्तेमाल किया जा सकता है. आयुर्वेद के अनुसार, मुलेठी अपने नायाब गुणों के कारण तीनों दोषों- वात, कफ और पित्त को शांत करती है.

इसका एक नाम 'यष्ट‍िमधु' भी है. स्वाद में मीठी होने की वजह से इसका यह नाम पड़ा है. मुलेठी के फायदों का बखान आयुर्वेद से जुड़े ग्रंथों में किया गया है. इसके 10 फायदों की यहां चर्चा की गई है...

1. गले की खराश तुरंत दूर करने में मुलेठी बेहद मददगार साबित होती है. मुंह बार-बार सूखने की स्थ‍िति में भी मुलेठी से फायदा होता है.

2. सूखी खांसी में भी मुलेठी लाभ पहुंचाती है. काली-मिर्च के साथ इसका सेवन करने से कफ ढीला होता है और राहत मिलती है.

3. मुलेठी स्त्र‍ियों के कुछ रोगों को भी दूर करती है. यह सौंदर्य में बढ़ोतरी करती है. इसके सेवन से मोटापा भी दूर होता है.

4. इसमें जीवाणुरोधी क्षमता पाई जाती है. पेट के अल्सर और घाव ठीक करने में मुलेठी की जड़ बेहद कारगर साबित होती है.

5. पाचन क्रिया ठीक करने में भी मुलेठी का कोई जोड़ नहीं है. अपच, अफरा, पेचिश, हाइपर एसिडिटी आदि में मुलेठी तत्काल असर दिखलाती है.

6. मिरगी के इलाज में भी इसका इस्तेमाल दवा के तौर पर होता है.

7. ऐसा माना जाता है कि नियमि‍त तौर पर मुलेठी का सेवन करने से आवाज मधुर होती है.

8. आंखों की सेहत और सुंदरता के लिए भी मुलेठी का इस्तेमाल किया जाता है.

9. वैसे तो मुलेठी शक्कर से भी ज्यादा मीठी होती है, पर डायबिटीज की बीमारी में भी इसका इस्तेमाल होता है.

10. पान में डालकर भी इसका इस्तेमाल किया जाता है.

एक नसीहत. जब कोई मुलेठी खाने का आग्रह करे, तो इससे इनकार करना नुकसानदेह साबित हो सकता है...

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें