scorecardresearch
 
सेहत

Monsoon Diseases: मॉनसून में वायरल-फ्लू का अटैक, इन 4 तरीकों से होगा शरीर का बचाव

बारिश1
  • 1/10

बारिश का मौसम अपने साथ कई बीमारियों को लेकर आता है. एक ओर जहां बारिश पड़ने से लोगों को गर्मी से राहत मिलती है, तो वहीं मौसम में बदलाव की वजह से स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं होने लगती हैं. मॉनसून में संक्रमण फैलने का खतरा और भी ज्यादा बढ़ जाता है. ऐसे में बरसात का लुत्फ उठाने के साथ-साथ स्वास्थ्य का ख्याल रखने की जरूरत होती है.

photo- Getty Images

इम्यूनिटी2
  • 2/10

दरअसल, बरसात के मौसम में कई मौसमी बीमारियां लोगों को प्रभावित करती हैं. इनसे व्यक्ति की इम्यूनिटी कमजोर पड़ने लगती है और संक्रमण से लड़ने की क्षमता कम हो जाती है. तो आइए जानते हैं मॉनसून में होने वाली कुछ बीमारियों के बारे में और वो तरीके जिनसे इम्यूनिटी को बढ़ाया जा सकता है.

(photo credit- pixabay)

फूड एंड वॉटर बोर्न डिजीज3
  • 3/10

फूड एंड वॉटर बोर्न डिजीज- स्वस्थ्य रहने के लिए घर का बना ताजा भोजन सबसे अच्छा विकल्प है. इस मौसम में बीमारियों से बचने के लिए उबला हुआ या प्यूरिफाइड पानी ही पिएं. बार-बार हाथ धोना ना भूलें. उचित स्वच्छता ना रखने पर हेपेटाइटिस ए, हैजा, टाइफाइड और डायरिया जैसी बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है. दूषित पानी और जंक फूड का सेवन करने से शरीर पर बुरा असर पड़ता है. इससे पेट संबंधी समस्याएं, बुखार, हेपेटाइटिस ए के कुछ मामलों में लिवर फेलियर जैसी समस्याओं का खतरा बढ़ जाता है.

(photo credit- pixabay) 

मलेरिया और डेंगू4
  • 4/10

मलेरिया और डेंगू- भारी बारिश के कारण अलग-अलग इलाकों में पानी जमा हो जाता है, जो समय के साथ ठहर जाता है. ये मच्छरों के लिए प्रजनन स्थल के रूप में काम करता है. इससे मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया जैसी बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है. डेंगू शरीर में ब्लड प्लेटलेट काउंट को कम कर देता है, जो व्यक्ति के लिए घातक सिद्ध हो सकता है.

(photo credit- pixabay) 

 दवाइयां5
  • 5/10

इन बीमारियों से बचाव के लिए मच्छर भगाने वाली दवाइयां, मच्छर रोकने वाले नेट आदि का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके अलावा, शाम से पहले दरवाजे, खिड़कियां बंद करने चाहिए, ताकि मच्छरों को घर में घुसने से रोका जा सके. साथ ही पौधों में या घर के आस-पास पानी जमा ना होने दें.

(photo credit- pixabay) 

कॉमन फ्लू और वायरल बुखार6
  • 6/10

कॉमन फ्लू और वायरल बुखार- कॉमन फ्लू और वायरल बुखार हवा के द्वारा फैलते हैं. आमतौर पर ये बीमारी सालभर बनी रहती है. लेकिन, मॉनसून में इन बीमारियों में तेजी से वृद्धि होती है. हवा में नमी की मात्रा अधिक होने के कारण सूक्ष्म जीवों को बढ़ने के लिए उपयुक्त वातावरण मिलता है. इससे संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ जाता है. इसके सामान्य लक्षणों में बुखार, गले में खराश, नाक बहना, आंखों से पानी आना आदि शामिल हैं.

(photo credit- pixabay) 

गंदे पानी में चलने का प्रयास ना करें7
  • 7/10

इन बीमारियों से बचाव के लिए बरसात में बाहर निकलते समय रेन प्रोटेक्शन गियर जैसे छाता, रेनकोट का प्रयोग करें. बैक्टीरिया, वायरल संक्रमण को रोकने के लिए गंदे पानी में चलने का प्रयास ना करें. जूते, मोजे, कपड़े समय-समय पर बदलते रहें. घर लौटने पर गरम पानी से स्नान करें.

(photo credit- pixabay)

फलों का सेवन करें8
  • 8/10

फलों का सेवन करें- स्वच्छ और ताजा भोजन बीमारियों बचने के लिए आवश्यक है. सेब, जामुन, लीची, आलूबुखारा, चेरी, आड़ू, पपीता, नाशपाती और अनार जैसे मौसमी फलों का सेवन करें. इसके अलावा, सूप का सेवन करें, जो शरीर को स्वस्थ रखता है और इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करता है.

(photo credit- pixabay)

हर्बल चाय9
  • 9/10

स्नेक्स खाना ज्यादातर सभी को पसंद होता है, लेकिन ये शरीर के लिए नुकसानदायक भी होते हैं. तले हुए स्नैक्स की जगह पर भुट्टे, स्प्राउट्स भेल आदि बेस्ट ऑप्शन में से एक हैं. इससे पेट संबंधी समस्याओं से भी बचा जा सकता है. नींबू, शहद, अदरक, लौंग, इलायची, दालचीनी, तुलसी आदि से बनी हर्बल चाय का सेवन शरीर को स्वस्थ रखता है और इन बीमारियों से बचाता है.

(photo credit- pixabay) 

कोरोना10
  • 10/10

देश में अभी भी कोरोना काल कायम है. ऐसे में एक्सपर्ट के अनुसार, बारिश के मौसम में कोविड- 19 मामलों की संख्या में वृद्धि हो सकती है. सुनिश्चित करें कि आवश्यकता पड़ने पर ही बाहर निकलें. हेल्दी खाएं जिससे इम्युनिटी बढ़ने में मदद मिले. अपने मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य को नियंत्रण में रखने के लिए व्यायाम और ध्यान करें. समस-समय पर फुल बॉडी चेकअप करवाएं.

(photo credit- pixabay)