scorecardresearch
 

15 साल से अधिक उम्र की पत्नी से संबंध बनाना दुष्कर्म नहीं: इलाहाबाद HC

अदालत ने एक मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि 15 साल से अधिक उम्र की पत्नी से यौन संबंध बनाना दुष्कर्म नहीं माना जाएगा.

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने दिया है फैसला (फाइल फोटो) इलाहाबाद हाईकोर्ट ने दिया है फैसला (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • इलाहाबाद हाईकोर्ट का अहम फैसला
  • मुरादाबाद से जुड़े केस में सुनाया फैसला

उत्तर प्रदेश की इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने गुरुवार को एक फैसला सुनाया है. अदालत ने एक मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि 15 साल से अधिक उम्र की पत्नी से यौन संबंध बनाना दुष्कर्म नहीं माना जाएगा.

नाबालिग पत्नी के साथ यौन संबंध बनाने के मामले में हाईकोर्ट ने आरोपी पति की ज़मानत अर्जी मंजूर की है. इस मामले में पति पर दहेज के लिए प्रताड़ित करने और अप्राकृतिक यौन संबंध बनाने का आरोप लगाया गया था.

कोर्ट ने कहा है कि आईपीसी की धारा 375 में 2013 में संशोधन हुआ है, ऐसे में ये दुष्कर्म की श्रेणी में नहीं आता है. 

ये मामला मुरादाबाद का है, जहां पर पत्नी ने अपने पति के खिलाफ दहेज, मारपीट करने और जबरन यौन संबंध बनाने को लेकर केस किया था. इसी मामले में पति द्वारा इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई थी. 

बता दें कि अभी हाल ही में एक अन्य मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा था कि शादी का झूठा वादा कर यौन संबंध बनाना रेप अपराध की श्रेणी में आना चाहिए. हाईकोर्ट ने इसको लेकर कानून बनाने की बात भी कही थी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें