scorecardresearch
 

बिना टैक्स 'स्मार्ट सिटी' बनाना नामुमकिन

इंडिया टुडे कॉनक्लेव 2017 के पांचवे सत्र दि गवर्नेंस एजेंडा में केन्द्रीय मंत्री वेकैय्या नायडू, रविशंकर प्रसाद और प्रकाश जावाडेकर शामिल हुए. इस सत्र का संचालन इंडिया टुडे समूह के एडिटोरियल डायरेक्टर राज चेंगप्पा ने किया. इस सत्र में देश को अधिक साक्षर, डिजिटल और स्मार्ट बनाने के लिए उठाए जाने वाले कदमों पर चर्चा की गई.इंडिया टुडे कॉनक्लेव 2017 के इस सत्र पर बोलते हुए केन्द्रीय मंत्री वेंकैय्या नायडू ने कहा कि केन्द्र सरकार के मंत्री इस मंच पर इसलिए हैं क्योंकि यहां देश के भविष्य की चर्चा हो रही है. नायडू ने बताया कि देश को स्मार्ट बनाने के लिए जरूरी है कि देश में स्मार्ट सिटी का निर्माण तेजी से किया जाए. स्मार्ट सिटी से नायडू का मतलब ऐसा शहर जो भविष्य में देश की चुनौतियों का सामना करते हुए नागरिकों को एक अच्छा जीवन दे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें