scorecardresearch
 

मोबाइल वैन के जरिए पुरानी दिल्ली की तंग गलियों में होगी कोरोना की टेस्टिंग

मोबाइल वैन के जरिए पुरानी दिल्ली की तंग गलियों में होगी कोरोना की टेस्टिंग

दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के चलते लॉकडाउन में कोई छूट नहीं दी जाएगी. आज यानि 20 अप्रैल से ही दिल्ली में रैपिड टेस्टिंग का दौर शुरू हो रहा है. इस बीच सेंट्रल डिस्ट्रिक्ट प्रशासन ने मोबाइल टेस्टिंग वैन की शुरुआत की है. सेंट्रल डिस्ट्रिक्ट में चांदनी महल जैसे कई हॉटस्पॉट ऐसे जो तंग गलियों में हैंं. वहां ये मोबाइल टेस्टिंग वैन उपयोगी साबित हो सकती है. सेंट्रल डिस्ट्रिक्ट की डीएम निधि श्रीवास्तव ने बताया कि इससे पहले ये मॉडल केरल एर्नाकुलम में अपनाया जा रहा है. दिल्ली में ये पहली वैन है. इस मोबाइल वैन का मकसद ये है कि कोरोना टेस्टिंग में लगे मेडिकल स्टाफ की सुरक्षा हो और ज्यादा-से-ज्यादा लोगोंं की टेस्टिंग हो सके किस तरह काम करती है. मोबाइल वैन की और क्या है खासियत. देखिए आजतक संवाददाता सुशांत मेहरा की ये रिपोर्ट.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें