scorecardresearch
 

फूलों की खेती करने वाले किसानों की हालत खस्ता! देखें यह रिपोर्ट

फूलों की खेती करने वाले किसानों की हालत खस्ता! देखें यह रिपोर्ट

लॉकडाउन में फूलों की खेती करने वाले किसानों की जिंदगी बदरंग हो गयी है. मंडी से लेकर बाजार तक कोई भी खरीददार नहीं. गाजियाबाद, दिल्ली और हरियाणा से ऐसे ही किसानों पर गाजियाबाद के मुरादनगर में फूलों की खेती करनेवाले किसान हैरान-परेशान हैं. कोरोना के खिलाफ जंग में लॉकडाउन लगाया गया तो मंदिर बंद हो गए, शादियां टल गईं, जश्न पर ब्रेक लग गया. लेकिन जिन किसानों ने बैंकों से लोन लेकर फूलों की खेती की उनकी जिंदगी में वीरानी छा गई. देखिए हमारी ये खास रिपोर्ट.

In the nationwide lockdown, the life of the flowers farmers has changed. No buyers are available in the market. Farmers who cultivate flowers in Ghaziabad, Delhi and Haryana are tensed as their crops are not selling in the market. Lockdown was imposed in the war against Corona, then temples were closed, marriages were postponed, celebrations were stopped hence no demand for flowers is coming from the market. But the farmers who took loans from banks for farming of flowers, are facing a huge crisis.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें