scorecardresearch
 

भीमा कोरेगांव हिंसा: आनंद तेलतुंबड़े ने अदालत के फैसले को सराहा

भीमा कोरेगांव हिंसा: आनंद तेलतुंबड़े ने अदालत के फैसले को सराहा

पिछले साल 1 जनवरी 2018 को पुणे के भीमा कोरेगांव में हुई हिंसा के मामले में सामाजिक कार्यकर्ता और दलित स्कॉलर आनंद तेलतुंबड़े को शनिवार को पुणे पुलिस ने मुंबई एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया. हालांकि, सत्र न्यायालय के आदेश पर उसी दिन शाम को उन्हें रिहा भी कर दिया गया. आनंद तेलतुंबड़े को नक्सलियों के साथ संबंध होने के आरोप के तहत गिरफ्तार किया गया था. पुणे की विशेष अदालत के फैसले के बाद दलित एक्टिविस्ट आनंद तेलतुंबडे से आजतक संवाददाता पंकज खेलकर ने बात की, उन्होंने कहा- पहली बार भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में ऐसा सकारात्मक फैसला आया है. उम्मीद करते हैं कि जो लोग नाहक सताए जा रहा हैं उन्हे कानून की मद्द मिले.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें