scorecardresearch
 

उत्तराखंड: पिथौरागढ़ के मुनस्यारी में दरका पहाड़, बाल-बाल बचे लोग

मुनस्यारी मदकोट सड़क पर इन दिनों निर्माण कार्य चल रहा है, जिसके धापा बैंड पर पहाड़ी अचानक दरककर सड़क पर आ गई. गनीमत ये रही कि सड़क पर चल रहे लोगों को पहले ही इसका अंदेशा हो गया और उन्होंने भागकर जान बचा ली.

प्रतीकात्मक तस्वीर (IANS) प्रतीकात्मक तस्वीर (IANS)

उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में सड़क निर्माण के दौरान पहाड़ी का एक बड़ा हिस्सा सड़क पर आ गिरा. दरअसल मुनस्यारी मदकोट सड़क पर इन दिनों निर्माण कार्य चल रहा है, जिसके धापा बैंड पर पहाड़ी अचानक दरक कर सड़क पर आ गई. गनीमत ये रही कि सड़क पर चल रहे लोगों को पहले ही इसका अंदेशा हो गया और उन्होंने भागकर जान बचा ली. इस दौरान एक राहगीर ने पूरा हादसा अपने मोबाइल फोन में कैद कर लिया.

अभी हाल में मुनस्यारी में एक बड़ी घटना सामने आई थी जिसमें 7 पर्वतारोहियों की मौत हो गई थी. नंदा देवी की पूर्वी चोटी के पश्चिमी पर्वत शृंखला से मई में लापता हुए पर्वतारोहियों के शवों को भारतीय वायुसेना के चीता हेलीकॉप्टरों ने 3 जुलाई को एयरलिफ्ट किया. 18,000-18,900 फुट की उंचाई से मिले शवों को एयरलिफ्ट कर 15,600 फुट नीचे लाया गया.

चीता हेलीकॉप्टरों ने शवों को मुनस्यारी आधार शिविर-1 में लाया, जहां से उन्हें पिथौरागढ़ जिला मुख्यालय ले जाया गया. पिथौरागढ़ के जिला मजिस्ट्रेट विजय जोगडांडे ने बताया कि इसके बाद सभी सात शवों को आगे की जांच के लिए उत्तराखंड पुलिस के हवाले कर दिया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें