scorecardresearch
 

स्वामी दयानंद सरस्वती के अंतिम दर्शन के लिए ऋषिकेश जाएंगे रजनीकांत और सनी देओल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आध्यात्मिक गुरु दयानंद सरस्वती का बुधवार रात लंबी बीमारी के कारण निधन हो गया. शुक्रवार को ऋषि‍केश के शीशमझाड़ी स्थि‍त आश्रम में उन्हें भू-समाधि‍ दी जाएगी. इस बीच खबर है कि फिल्म अभि‍नेता रजनीकांत और सनी देओल उनके अंतिम दर्शन के लिए आश्रम पहुंचने वाले हैं.

फिल्म अभि‍नेता रजनीकांत फिल्म अभि‍नेता रजनीकांत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आध्यात्मिक गुरु दयानंद सरस्वती का बुधवार रात लंबी बीमारी के कारण निधन हो गया. शुक्रवार को ऋषि‍केश के शीशमझाड़ी स्थि‍त आश्रम में उन्हें भू-समाधि‍ दी जाएगी. इस बीच खबर है कि फिल्म अभि‍नेता रजनीकांत और सनी देओल उनके अंतिम दर्शन के लिए आश्रम पहुंचने वाले हैं.

स्वामी दयानंद ने 86 वर्ष के थे और बुधवार रात 10:20 मिनट पर उन्होंने आखि‍री सांस ली. रजनीकांत और सनी देओल के अलावा उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत भी स्वामी जी के अंतिम दर्शन करेंगे. वह चार बजे आश्रम पहुंचने वाले हैं. इससे पहले स्वामी दयानंद को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए रावत ने कहा, 'ऐसे महापुरुष कभी मरते नहीं, पूरे वातावरण में व्याप्त हो जाते हैं. उनका जाना बड़ी क्षति है.'

दस दिनों तक हिमायलन अस्पताल जौलीग्रांट में भर्ती रहने के बाद उनकी अंतिम इच्छा के अनुसार उन्हें आश्रम लाया गया. गुरुवार को उनके पार्थि‍व शरीर को अंतिम दर्शनों के लिए रखा गया है. आश्रम में बड़ी संख्या में उनके अनुयायी और श्रद्धालु उमड़ रहे हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस वक्त अमेरिका में हैं. उन्होंने ट्विटर पर स्वामी जी के निधन पर शोक जताया है. मुनिकीरेती शीशमझाड़ी स्थि‍त श्री दयानंद आश्रम के संस्थापक और वेद-उपनिषद के ज्ञाता स्वमी दयानंद सरस्वती का हाल जानने के लिए 11 सितंबर को प्रधानमंत्री मोदी खुद ऋषि‍केश पहुंचे थे. इस बीच 13 सितंबर को सेहत बिगड़ने के कारण उन्हें जौलीग्रांट अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. उनके शव को सुरक्षि‍त रखने के लिए रासायनिक लेप लगाया गया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें