scorecardresearch
 

PM मोदी के आध्यात्म‍िक गुरु स्वामी दयानंद सरस्वती का निधन

PM नरेंद्र मोदी के आध्यात्म‍िक गुरु स्वामी दयानंद सरस्वती का निधन हो गया है. वे पिछले कुछ समय से गंभीर रूप से बीमार चल रहे थे.

अपने गुरु का हाल-चाल पूछते पीएम मोदी (फाइल फोटो) अपने गुरु का हाल-चाल पूछते पीएम मोदी (फाइल फोटो)

PM नरेंद्र मोदी के आध्यात्म‍िक गुरु स्वामी दयानंद सरस्वती का निधन हो गया है. वे पिछले कुछ समय से गंभीर रूप से बीमार चल रहे थे.

स्वामी दयानंद सरस्वती ने ऋषिकेश में बुधवार रात 10:20 बजे आख‍िरी सांस ली. उन्हें अस्पताल के ICU से आश्रम लाया गया था. शुक्रवार को उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा.

11 सितंबर को गुरु से मिले थे PM मोदी
पीएम मोदी गुरु की गिरती सेहत की खबर सुनकर बेचैन हो उठे थे और आनन-फानन में उनसे मिलने 11 सितंबर को ऋषिकेश गए थे. गुरु से 16 साल पुराना रिश्ता
स्वामी दयानंद गिरि और पीएम मोदी का रिश्ता बहुत पुराना था. सोलह साल पहले भी मोदी ऋषिकेश के दयानंद आश्रम में आए थे. जब-जब मोदी के सामने कोई मुश्किल समस्या आई, तब-तब उन्होंने गुरु से ज्ञान लिया.

 

गांधीनगर बुलाकर किया था स्वागत
नरेंद्र मोदी जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे, तब उन्होंने बड़े आदर के साथ अपने गुरु दयानंद गिर‍ि को गांधीनगर बुलाकर उनका स्वागत किया था.

मोदी के जीवन पर गहरा प्रभाव
86 साल के स्वामी दयानंद गिरि की सबसे बड़ी खूबी यह थी कि वे वेदांत के जरिए आज की समस्याओं का भी निदान निकाल लेते थे. यही वजह है कि मोदी के जीवन पर अपने गुरु का गहरा प्रभाव है.

संयुक्त राष्ट्र से मिला अवॉर्ड
स्वामी दयानंद गिरि ऋषिकेष में दयानंद सरस्वती आश्रम और कोयंबटूर में अर्श विद्या गुरुकुलम के संचालक थे. उनके आश्रम से देशभर में सौ से ज्यादा शिक्षा के केंद्र चलाए जाते हैं. शिक्षा और सेहत के लिए बेहतरीन काम करने के चलते दयानंद आश्रम को साल 2005 में संयुक्त राष्ट्र की तरफ से अवॉर्ड भी मिल चुका है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें