scorecardresearch
 

मसूरी में भारी बारिश से कैम्पटी फॉल में अचानक आया सैलाब, बाल-बाल बचे 200 सैलानी

दरअसल कैम्पटी फॉल में सोमवार चार बजे के आसपास पर्यटक जमकर मस्ती कर रहे थे. बड़ी संख्या में पर्यटक फॉल के नीचे और झील में नहा रहे थे. इन्हें पर्वतीय क्षेत्रों में हुई भारी बारिश का तनिक भी अंदाजा नहीं था.

कैम्पटी फॉल (फाइल फोटो) कैम्पटी फॉल (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पर्वतीय क्षेत्रों में लगातार हो रही है बारिश
  • सैलाब बनकर आई पानी का धारा

उत्तराखंड के मसूरी में स्थित कैम्पटी फॉल में सोमवार को 200 से ज्यादा पर्यटक हादसे का शिकार होते-होते बच गए. दरअसल कैम्पटी फॉल के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में हुई भारी बारिश के बाद फॉल में अचानक पानी बढ़ गया और यहां पानी की बेहद तेज धार बहने लगी. ये धार इतनी शक्तिशाली थी कि अगर गलती से भी कोई इसकी चपेट में आता तो उसका नामोनिशान मिलना मुश्किल था. 

हालांकि स्थानीय पुलिस को पर्वतीय क्षेत्रों में भारी बारिश के बाद उफान का अंदाजा हो गया था. पुलिस और स्थानीय प्रशासन ने तत्काल फॉल में नहा रहे लोगों को सुरक्षित निकाल लिया. 

दरअसल कैम्पटी फॉल में सोमवार चार बजे के आसपास पर्यटक जमकर मस्ती कर रहे थे. बड़ी संख्या में पर्यटक फॉल के नीचे और झील में नहा रहे थे. इन्हें पर्वतीय क्षेत्रों में हुई भारी बारिश का तनिक भी अंदाजा नहीं था. लेकिन कैम्पटी के ऊंचाई वाले स्थानों पर हुई भारी बारिश की जानकारी थानाध्यक्ष नवीन चंद्र जुराल को मिल गई थी. वे तत्काल दल बल के साथ कैम्पटी पहुंचे और वहां नहा रहे सैलानियों को झील से बाहर निकाला और आसपास घूम रहे सैलानियों को भी सुरक्षित स्थान पर भेजा. 

पुलिस ने समय रहते कैम्पटी फॉल में नहा रहे करीब 200 से अधिक पर्यटकों और स्थानीय लोगों को सुरक्षित स्थान पर भेजा. सैलानी झील से निकले ही थे कि वहां पर मानो सैलाब आ गया. पलभर में ही पानी का बहाव प्रलयंकारी हो गया. ऊंचाई वाले स्थानों में हुई बारिश का पानी बहकर जब नीचे की ओर आया तो पानी का वेग बहुत तेज था. इसे देखकर वहां मौजूद पर्यटक सिहर गए. पुलिस द्वारा तनिक भी देरी से यहां बड़ा हादसा हो सकता था, लेकिन स्थानीय पुलिस ने शानदार पहल करते हुए तेजी दिखाई और लोगों को बचा लिया. 

(सुनील सिलावल की रिपोर्ट)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें