scorecardresearch
 

शाही स्नान से पहले उत्तराखंड पुलिस की अपील, गढ़वाल और कुमाऊं जाने वाले लोग हरिद्वार की तरफ जाने से बचें

आगामी शाही स्नान के मध्येनजर उत्तराखंड पुलिस के सामने सबसे बड़ी समस्या भारी भीड़ के चलते पैदा होने वाले जाम को लेकर है. इसके लिए पुलिस ने तैयारियां तेज कर दी है. पुलिस गढ़वाल और कुमाऊं जाने वाले लोगों से हरिद्वार के बजाय अन्य वैकल्पिक रास्तों के उपयोग की सलाह दे रही है.

हरिद्वार में महाकुंभ (सांकेतिक तस्वीर) हरिद्वार में महाकुंभ (सांकेतिक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 12 और 14 अप्रैल को कुंभ मेले में शाही स्नान
  • शाही स्नान में भारी भीड़ होने की संभावना
  • उत्तराखंड मुख्य स्नान के लिए पूरी तरह तैयारः DGP

हरिद्वार में 12 और 14 अप्रैल को कुंभ मेले में शाही स्नान होने जा रहा है जिसको लेकर उत्तराखंड पुलिस ने तैयारियां तेज कर दी हैं. डीजीपी अशोक कुमार ने 9 अप्रैल से कुमाऊं और गढ़वाल जाने वाले लोगों को हरिद्वार जाने से बचने की सलाह दी है और वैकल्पिक मार्गो से जाने की अपील की है.

माना जा रहा है कि आगामी 12 और 14 अप्रैल के कुंभ के शाही स्नान में भारी भीड़ होने की संभावना है जिसके चलते तमाम मार्ग डायवर्ट रहेंगे. जिसके चलते हरिद्वार के रास्ते से निकलने वालों को जाम की परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. 

आगामी शाही स्नान के मद्देनजर उत्तराखंड पुलिस के सामने सबसे बड़ी समस्या भारी भीड़ के चलते पैदा होने वाले जाम को लेकर है. इसके लिए पुलिस ने तैयारियां तेज कर दी हैं. पुलिस गढ़वाल और कुमाऊं जाने वाले लोगों से हरिद्वार के बजाए अन्य वैकल्पिक रास्तों के उपयोग की सलाह दे रही है

उत्तराखंड पुलिस के मुखिया अशोक कुमार का कहना है कि लोगों को वैकल्पिक रास्तों के जरिये दोनों मंडलों में जाना चाहिए जिन लोगो को स्नान नहीं करना है वो हरिद्वार जाने से बचें. जिससे उन्हें ट्रैफिक जाम की परेशानी ना उठानी पड़े.  

डीजीपी उत्तराखंड का कहना है कि लोग रुड़की के रास्ते भी कुमाऊं जा सकते हैं. गढ़वाल जाने वाले लोग देहरादून से ऋषिकेश के रास्ते जा सकते हैं वहीं कुंभ मेले में होने वाले मुख्य स्नान की सुरक्षा को लेकर 8 अप्रैल को हरिद्वार में ब्रीफिंग की जाएगी. पुलिस जवानों को कुंभ मेले की चाक-चौबंद व्यवस्था रखने के निर्देश दिए गए हैं.

आपको बता दें कि 12, 14 और 27 अप्रैल को कुंभ मेले में शाही स्नान होगा जिसमें देश-विदेश के भारी संख्या में श्रद्धालु पहुंच सकते हैं. डीजीपी ने कहा कि 9 तारीख़ से मुख्य स्नानों के लिए ड्यूटी पर नियुक्त किया जाएगा. उन्होंने यह भी कहा कि उत्तराखंड आने वाले मुख्य स्नान के लिए पूरी तरह तैयार है. 

 

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें