scorecardresearch
 

अब महंत नरसिंहानंद ने गांधी पर दिया विवादित बयान, कालीचरण की गिरफ्तारी का भी किया विरोध

धर्मगुरु कालीचरण के बाद अब गाजियाबाद स्थित डासना मंदिर के महंत ने महात्मा गांधी को लेकर विवादास्पद बयान दिया है.

X
डासना मंदिर के महंत. -फाइल फोटो डासना मंदिर के महंत. -फाइल फोटो
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पहले भी विवादों में रहे हैं डासना मंदिर के महंत
  • महंत के खिलाफ पहले दर्ज हो चुके हैं मामले

धर्मगुरु कालीचरण के बाद अब गाजियाबाद स्थित डासना मंदिर के महंत ने महात्मा गांधी को लेकर विवादास्पद बयान दिया है. उन्होंने महात्मा गांधी को 'गंदगी' बताया है. महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती गिरी ने हरिद्वार में कहा कि धर्मगुरु कालीचरण की गिरफ्तारी गलत है. बता दें कि रायपुर में कुछ दिन पहले हुई एक धर्म संसद में धर्म गुरु कालीचरण ने महात्मा गांधी को लेकर अपशब्द कहे थे. उन्होंने गांधीजी की हत्या के लिए नाथूराम गोडसे की सराहना भी की थी. इसके बाद गुरुवार को धर्म गुरु को मध्यप्रदेश के छतरपुर से गिरफ्तार कर लिया गया. धर्म गुरु की गिरफ्तारी के बाद छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश सरकार आमने-सामने भी आ गई.

बता दें कि नरसिंहानंद सरस्वती खुद हरिद्वार में हुई धर्म संसद का हिस्सा रहे थे. इसमें भी भड़काऊ बयान दिए गए थे.

डासना मंदिर के महंत ने क्या कहा...

महंत ने कहा कि गांधी नामक गंदगी के कारण जिसने स्वामी कालीचरण महाराज की गिरफ्तारी की है, मां काली और महादेव उनका विनाश करेंगे. उन्होंने कालीचरण के बयान से संत समाज को शत-प्रतिशत सहमत बताया. महंत ने कहा कि संत समाज कालीचरण महाराज के साथ है. कालीचरण की जल्द जमानत न होने पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के आवास पर जाकर आमरण अनशन की भी बात कही है.

कालीचरण ने क्या कहा था...

कालीचरण ने कहा था कि इस्लाम का लक्ष्य राजनीति के जरिए राष्ट्र पर कब्जा करना है. हमारी आंखों के सामने उन्होंने 1947 में कब्ज कर लिया था. उन्होंने पहले ईरान, इराक और अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया था. उन्होंने राजनीति के जरिए बांग्लादेश और पाकिस्तान पर कब्जा कर लिया था.... मैं नाथूराम गोडसे को सलाम करता हूं कि उन्होंने मोहनदास करमचंद गांधी की हत्या की. यह कहते हुए उन्होंने गांधी को अपशब्द भी कहे थे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें