scorecardresearch
 

UP's women commission की सदस्य का विवादित बयान- लड़कियों को मोबाइल न दें, घंटों लड़कों से करती हैं बातचीत

UP's women commission की सदस्य का विवादित बयान- लड़कियों को मोबाइल न दें, घंटों लड़कों से करती हैं बातचीत

उत्तर प्रदेश महिला आयोग का काम महिलाओं के हक की रक्षा करना है लेकिन इसकी सदस्य महिलाओं पर अभद्र टिप्पणी कर रही है. आयोग की सदस्य मीना कुमारी कहना है कि लडकियों को मोबाइल फोन ना दें. महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध के पीछे मोबाइल फोन का इस्तेमाल करना है. लड़कियां मोबाइल पर घंटों तक लड़कों के साथ बात करती हैं. अगर मोबाइल दे तो उस पर पूरी निगाहें रखें. देखें वीडियो.

A member Meena Kumari of the UP State Women's Commission gives a controversial statement, said parents should avoid giving to the girls because it leads to rape. If parents give mobile, then they should do surveillance. Crime against women is the result of the carelessness of parents. Meanwhile, the state's commission distance itself from the statement. Watch the video to know more.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें