scorecardresearch
 

Farmers Agitation के नेताओं में मतभेद क्यों? Rakesh Tikait ने द‍िया ये जवाब

Farmers Agitation के नेताओं में मतभेद क्यों? Rakesh Tikait ने द‍िया ये जवाब

भारतीय किसान यूनियन 22 नवंबर को लखनऊ में महापंचायत करने जा रही है जिसमें किसानों के मुद्दे और मांगों को उठाया जाएगा. जब भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत से पूछा गया कि किसान नेताओं के आंदोलन में मतभेद क्यों हैं तो इसपर टिकैत ने जवाब दिया कि मतभेद होना आम है, किसानों के मुद्दे वही हैं और हम किसान भाई एक हैं. और अगर किसान की ट्रॉली खाली है और बीजेपी के झंडे लगे हैं तो यह स‍ियासी लोग हैं. टिकैत ने कहा कि यह कहना गलत होगा कि हम चुनावी रणनीति बना रहे हैं. हम किसानों के मुद्दों पर बात कर रहे हैं इससे चुनाव का कोई लेना-देना नहीं है. ज्यादा जानकारी के ल‍िए देखें ये वीडियो.

The Bharatiya Kisan Union is going to hold a Mahapanchayat in Lucknow on November 22, in which the issues and demands of the farmers will be raised and efforts will be made to reach the government. BJP Kisan Morcha is also going to organize tractor rally which will run from November 16 to November 30. The purpose of this rally will be to promote the work done by the government in the interest of farmers. Tikait said that it would be wrong to say that we are making an election strategy. We are talking about farmers' issues, it has nothing to do with politics and elections.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें