scorecardresearch
 

'लड़की के साथ फोटो से मुझे बदनाम करने की साज‍िश', देखें Mahant Narendra Giri का Suicide Note

'लड़की के साथ फोटो से मुझे बदनाम करने की साज‍िश', देखें Mahant Narendra Giri का Suicide Note

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की मौत के बाद उनका 8 पेज का सुसाइड नोट सामने आया है. जिसमें उन्होंने अपनी मौत के लिए आनंद गिरि, लेटे हनुमान मंदिर के पुजारी अद्या तिवारी, संदीप तिवारी को अपनी मौत के लिए जिम्मेदार बताया है. सुसाइड लेटर में महंत नरेंद्र गिरि ने लिखा है कि मैं महंत नरेंद्र गिरि आज आनंद गिरि के कारण बहुत विचलित हो गया. आज हरिद्वार से सूचना मिली कि एक दो दिन में आनंदगिरी मोबाइल के माध्यम से किसी छोटी महिला या लड़की के साथ गलत काम करते हुए फोटो वायरल कर देगा. मैं महंत नरेंद्र गिरि बदनामी के डर से सफाई देता रहूंगा. मैं जिस सम्मान से जी रहा हूं, तो बदनामी में कैसे जी पाऊंगा. इसलिए आत्महत्या कर रहा हूं. ज्यादा जानकारी के लिए देखें वीडियो.

Amid calls of a judicial probe into the sudden death of President of the Akhil Bharatiya Akhada Parishad Mahant Narendra Giri, suicide note reportedly written by the seer before ending his life, has come into light. Watch the video to know what he has written in the suicide note.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×