scorecardresearch
 

Lakhimpur कांड में Rakesh Tikait पर मध्यस्थता को लेकर सवाल, दी ये सफाई

Lakhimpur कांड में Rakesh Tikait पर मध्यस्थता को लेकर सवाल, दी ये सफाई

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर में हुई हिंसा का मामला देश के सर्वोच्च न्यायालय तक पहुंच गया है. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार से 24 घंटे के अंदर स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करने को कहा है- यानी कितने आरोपी हैं,किसके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है और किन्हें गिरफ्तार किया गया है. लखीमपुर में योगी सरकार के लिए संकटमोचक बने राकेश टिकैत ने मध्यस्थता को लेकर खुद पर उठ रहे सवालों का जवाब दिया है. टिकैत ने कहा समझौता के पीछे सिर्फ उनका रोल नहीं था बल्कि समझौता परिवार वालों की सहमती से हुआ. देखें वीडियो.

In the Lakhimpur Kheri violence case, the government announces Rs 45 lakh and a government job for the kin of four farmers. BKU leader and face of farmers protest Rakesh Tikait plays a huge role in meditation. While speaking to the Aaj Tak, Tikait said- it was not only his role behind the agreement but the agreement was done with the consent of the family members. Watch the video to know more.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें