scorecardresearch
 

अयोध्या में बोले CM योगी, 'बातचीत से हल होगा राम मंदिर विवाद, मुस्लिमों ने किया समर्थन'

अयोध्या दौरे पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राम मंदिर विवाद का समाधान बातचीत से निकाला जाए. उन्होंने कहा कि यूपी सरकार मंदिर निर्माण के लिए हर स्तर पर मदद करने के लिए तैयार है.

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ

अयोध्या दौरे पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राम मंदिर विवाद का समाधान बातचीत से निकाला जाए. उन्होंने कहा कि यूपी सरकार मंदिर निर्माण के लिए हर स्तर पर मदद करने के लिए तैयार है. साथ ही उन्होंने कहा कि कई मुस्लिमों ने राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि देने के बात कर एकता का संदेश दिया. योगी ने कहा कि मंदिर निर्माण के लिए देश में एक नया माहौल बना है.

योगी के भाषण की मुख्य बातें...

-अयोध्या से श्रीराम का नाम जुड़ा है.
-अयोध्या आने पर हर कोई श्रीराम बोलता है.
-पहले विश्व हिंदू परिषद ने 84 कोसी परिक्रमा शुरू करने की बात की, लेकिन तत्कालीन सरकार ने परिक्रमा नहीं होने दी.
-5 कोसी, 84 कोसी, 14 कोसी परिक्रमा शुरू करेंगे.
-धर्म का मकसद लोक कल्याण है. धर्म को संकीर्ण दायरे में नहीं रखना है.
-भारत आस्था का देश है.
-अयोध्या धाम की हमेशा उपेक्षा होती रही है.
-हर संभव प्रयास किया गया कि अयोध्या में कोई विकास कार्य ही न हो पाए.
-अब अयोध्या धाम की उपेक्षा नहीं होगी. जब से केंद्र में मोदी सरकार आई है, तबसे अनेक लोककल्याणकारी योजनाएं शुरू की गईं.
-अयोध्या के विकास का श्रेय प्रधानमंत्री मोदी को दिया जाना चाहिए.
-राम-जानकी मार्ग का निर्माण जल्द ही होगा.
-जहां रामलीला होती है, वहां भगवान राम स्वयं विराज करते हैं.
-सरयू माता की हर रोज आरती हो, साथ ही महाआरती का आयोजन भी किया जाए. सरयू में पानी की कमी नहीं होने देंगे.
-रामघाट के लिए बिजली और सड़क समेत तमाम व्यवस्था करी जाएगी.
-अयोध्या में अखंड रामलीला चलेगी.
-अयोध्या की सड़कों के लिए 50 करोड़ दिए जाएंगे.
-पार्किंग की भी व्यवस्था की जाएगी.
-अयोध्या के विकास के लिए 350 करोड़ दिए जाएंगे.

बता दें कि योगी आदित्यनाथ बतौर मुख्यमंत्री राम लला के दर्शन करने वाले उत्तर प्रदेश के दूसरे मुख्यमंत्री हैं. इससे पहले बतौर मुख्यमंत्री राजनाथ सिंह 2002 में अयोध्या गये थे. 1991 में हुए बाबरी विध्वंस के बाद राम लला के दर्शन करने वाले वह दूसरे मुख्यमंत्री हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें