scorecardresearch
 

लखनऊ गैंगरेपः यूपी सरकार ने उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिए

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के मोहनलालगंज में गैंगरेप के बाद युवती के हत्या से सनसनी फैल गई है. एक बार फिर यूपी की कानून-व्यवस्था पर गंभीर सवाल उठने लगे हैं. सूबे की अखिलेश सरकार विरोधियों के निशाने पर है. इस बीच, मामले को लेकर चौतरफा आलोचना से घिरी यूपी सरकार ने जांच आदेश दे दिए हैं.

X
Symbollic Image Symbollic Image

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के मोहनलालगंज में गैंगरेप के बाद युवती के हत्या से सनसनी फैल गई है. एक बार फिर यूपी की कानून-व्यवस्था पर गंभीर सवाल उठने लगे हैं. सूबे की अखिलेश सरकार विरोधियों के निशाने पर है. इस बीच, मामले को लेकर चौतरफा आलोचना से घिरी यूपी सरकार ने जांच आदेश दे दिए हैं. इसके लिए विशेष टीम का गठन किया गया है.

ताजा जानकारी के मुताबिक यूपी के डीजीपी गैंग रेप और हत्या की इस बर्बर वारदात की जांच के लिए एक स्पेशल टीम का गठन किया है. एडिशनल डीजीपी सुतापा सन्याल और उनकी टीम इस मामले की जांच करेगी. दरअसल, स्पेशल टीम से जांच कराने का फैसला शुक्रवार सुबह हुई उच्च स्तरीय बैठक में लिया गया. इस बैठक राज्य के मुख्य सचिव आलोक रंजन द्वारा बुलाई गई थी. इसमें गृह सचिव, डीजीपी के साथ अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने हिस्सा लिया.

दरअसल, गुरुवार को मोहनलालगंज के बलसिंहखेड़ा गांव के प्राथमिक स्कूल में एक 25 वर्षीय महिला का शव अर्धनग्न अवस्था मिला. पुलिस का दावा है कि महिला की हत्या गुरुवार रात को की गई. चौंकाने वाली बात यह है कि इस इलाके से महज 6 किलोमीटर दूर इलाके में अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन दौरे पर गए थे जिसे लेकर इलाके में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे. इसके बावजूद राजधानी में ऐसी घिनौनी वारदात हुई. आरोपियों ने पीड़ित को कथित तौर पर नंगा किया और उसके शरीर पर कई बार वार किए. शव के शुरुआती जांच के बाद पुलिस ने बताया कि हमले के घाव महिला के निजी अंगों पर भी हैं.

घटना स्थल पर से मिले फिंगर प्रिंट्स और अन्य सैंपल को आगे की जांच के लिए फोरेंसिक लैब भेज दिया गया है. इस बीच पीड़ित की पहचान हो गई है, वह लखनऊ की पीजीआई अस्पताल में काम करती थीं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें