scorecardresearch
 

लखनऊ: वायरल बुखार का कहर, पेरासिटामोल की मांग 2 गुना तक बढ़ी

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के साथ-साथ मथुरा, आगरा, कानपुर, प्रयागराज आदि में भी वायरल बुखार (viral fever in UP) के मामले सामने आए हैं.

कानपुर में भर्ती वायरल बुखार से पीड़ित मरीज (फोटो - PTI) कानपुर में भर्ती वायरल बुखार से पीड़ित मरीज (फोटो - PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • यूपी के कई जिलों में रहस्यमय वायरल बुखार का कहर
  • अबतक यूपी में 100 से ज्यादा लोग इससे जान गंवा चुके हैं

लखनऊ सहित उत्तर प्रदेश के कई इलाके इस वक्त, डेंगू, मलेरिया और वायरल बुखार (viral fever) की चपेट में हैं. उसके बाद से मेडिकल स्टोर पर पेरासिटामोल और एंटीबायोटिक मेडिसिन की मांग बहुत तेजी से बढ़ रही है. इन दवाओं को लेने के लिए मेडिकल स्टोर्स पर भीड़ देखी जा सकती है. सामान्य दिनों से ज्यादा मांग की वजह से सप्लाई की कमी भी सामने आई है. मांग को देखते हुए प्रशासन इन दवाओं की ज्यादा सप्लाई की कोशिश कर रहा है.

डिमांड को पूरा करने की हो रही कोशिश

आलोक एरन (चेयरमैन, रिटेल केमिस्ट एसोसिएशन) के मुताबिक, डेंगू, मलेरिया और वायरल की वजह से पेरासिटामोल की खपत ज्यादा बढ़ गई है. वहीं लखनऊ मंडल के असिस्टेंट कमिश्नर मनोज कुमार के मुताबिक, दवाओं की आपूर्ति पूरी तरीके से ठीक चल रही है. उन्होंने कहा कि पेरासिटामोल या अन्य जो दवाएं हैं, उनका स्टॉक पहले ही मौसम और सीजन के हिसाब से ज्यादा मंगा लिया जाता है, इसलिए इनकी कमी होने के चांस कम हैं.

यूपी में पैर पसार रहा वायरल बुखार

उत्तर प्रदेश में वायरल बुखार के मामले कई जिलों, शहरों में पाए गए हैं. इसमें राजधानी लखनऊ, मथुरा, आगरा, कानपुर, प्रयागराज, फिरोजाबाद आदि शामिल है. ये रहस्यमय वायरल बुखार अबतक यूपी में 100 से ज्यादा लोगों की जान ले चुका है. इसमें ज्यादातर बच्चे शामिल हैं. यूपी के फिरोजाबाद की स्थिति सबसे ज्यादा चिंताजनक है. वहां 50 से ज्यादा लोगों ने इस वायरल बुखार की वजह से जान गंवाई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें