scorecardresearch
 

राम मंदिर निर्माण पर VHP के आलोक कुमार बोले- 492 साल से थी प्रतीक्षा

आलोक कुमार ने कहा कि सरकार के मुताबिक अयोध्या में भूमि पूजन कार्यक्रम में 200 लोग आ सकते हैं, जिनमें 50 सरकार से जुड़े लोग होंगे.

विश्व हिंदू परिषद के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार (फोटो-PTI) विश्व हिंदू परिषद के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार (फोटो-PTI)

  • 'दलितों और आदिवासियों में शिक्षा का प्रसार हो'
  • जात-पात दूर करने पर काम करेंगे-आलोक कुमार

आयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए 5 अगस्त को होने वाले भूमि पूजन कार्यक्रम पर विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा है कि इस समय का 492 साल से इंतजार हो रहा था.

राम मंदिर निर्माण पर आलोक कुमार ने कहा, 'इस समय की 492 साल से प्रतीक्षा हो रही थी. 5 अगस्त से मंदिर का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा. वर्ष 1989 में हमने शिलान्यास किया था और अब खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आकर इसके निर्माण कार्य में भाग लेंगे. हमने, आपने राम राज्य के बारे में पढ़ा है.'

आलोक कुमार ने कहा, 'हम चाहते हैं कि दलितों और आदिवासियों में शिक्षा का प्रसार हो. गो उत्पादन और गांव में आत्मनिर्भरता के लिए हम आगे काम करेंगे. तीन साल जब तक यह राम मंदिर बनेगा तब तक हम काम करेंगे. समाज में ऊंच-नीच, जात-पात को दूर करने के लिए काम करेंगे. हम आदिवासियों के सशक्तिकरण के लिए काम करेंगे. भारत के समाज को आगे ले जाना हमारा लक्ष्य है.'

ये भी पढ़ें-भूमि पूजन के लिए सजी रामनगरी, अयोध्या पहुंच योगी ने लिया तैयारियों का जायजा

वीएचपी के कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि हम विशेष तौर पर अनुसूचित जाति और जनजाति के लोगों में शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार की व्यवस्था पर काम करेंगे. उन्होंने कहा कि हमारा संकल्प है कि मंदिर निर्माण के साथ ही हिन्दू परिवार व्यवस्था में संस्कार और परस्पर प्रेम की भावना जागृत करने की दिशा में काम करेंगे. मंदिर निर्माण के साथ-साथ इन लक्ष्यों को पूरा करने के लिए भी हम प्रयास करेंगे, जिससे राम राज्य की स्थापना हो सके.

अयोध्या: राम मंदिर के लिए भूमिपूजन का मुहूर्त बताने वाले पुजारी को मिली धमकी

वीएचपी के कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि सरकार के मुताबिक अयोध्या में भूमि पूजन कार्यक्रम में 200 लोग आ सकते हैं जिनमें सरकार से जुड़े 50 लोग होंगे. हमने कार्यकर्ताओं से अपील की है कि वह अयोध्या न जाएं. वहां भीड़ न लगे. अगर हम सबको बुलाते तो डेढ़ सौ से ज्यादा हो जाते. हम राम मंदिर के मुद्दे पर हिन्दुओं को एकजुट करने में सफल रहे.

ये भी पढ़ें-दिग्विजय बोले- उमा भारती खुद बताएं मुहूर्त सही है या नहीं? चुप क्यों हैं संत

दिग्विजय की बात का जवाब नहीं देंगे

मंदिर निर्माण में शुभ मुहूर्त को लेकर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के सवाल पर आलोक कुमार ने कहा कि वह कुछ न कुछ उल्टा बोलते रहते हैं. उनको पता होना चाहिए और मैंने अखबार में पढ़ा था कि सोनिया जी भी अस्पताल में हैं. हम दिग्विजय सिंह की बात का जवाब नहीं देना चाहते. वहीं बीजेपी नेता उमा भारती की मांग पर आलोक कुमार ने कहा कि हम उनसे अनुरोध करेंगे कि वह आएं. हम पीएम और उनकी सेहत दोनों का ध्यान रखेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें