scorecardresearch
 

योगी कैबिनेट की हुई बैठक, इन योजनाओं को मिली मंजूरी

उत्तर प्रदेश की योगी कैबिनेट की मंगलवार को बैठक हुई, जिसमें कई महत्वपूर्ण प्रस्ताव पास हुए. कानपुर में हुए सिख विरोधी दंगों की जांच के लिए बनी एसआईटी को पुलिस थाना अधिसूचित किया जाएगा. लखनऊ के ऐशबाग स्थित रामलीला ग्राउंड के सौन्दर्यीकरण की प्रायोजना के अंतर्गत प्रस्तावित कार्यों को कैबिनेट ने मंजूरी प्रदान कर दी.    

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फोटो-PTI) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फोटो-PTI)

  • उत्तर प्रदेश की योगी कैबिनेट की मंगलवार को हुई बैठक
  • कई जिलों में नगर पंचायत का सीमा विस्तार को मंजूरी

उत्तर प्रदेश की योगी कैबिनेट की मंगलवार को बैठक हुई, जिसमें कई महत्वपूर्ण प्रस्ताव पास हुए. कानपुर में हुए सिख विरोधी दंगों की जांच के लिए बनी एसआईटी को पुलिस थाना अधिसूचित किया जाएगा. लखनऊ के ऐशबाग स्थित रामलीला ग्राउंड के सौन्दर्यीकरण की प्रायोजना के अंतर्गत प्रस्तावित कार्यों को कैबिनेट ने मंजूरी प्रदान कर दी.

इसके अलावा स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के दाह संस्कार के लिए दिए जाने वाले अनुदान में बढ़ोतरी को मंजूरी मिली. सहारनपुर, मथुरा, मऊ, बलरामपुर, प्रतापगढ़, अलीगढ़, पीलीभीत, रामपुर, सोनभद्र समेत कई जिलों में नगर पंचायत का सीमा विस्तार और नगर पंचायत के गठन को मंजूरी प्रदान की गई.

वहीं गोरखपुर में गोरखपुर-महाराजगंज-निचलौल मार्ग के निर्माण योजना को मंजूरी मिली. राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के काफिले के लिए 4 महिंद्रा स्कार्पियो वाहनों के क्रय के लिए भी कैबिनेट ने स्वीकृति दी.

विधानसभा में लाए जा रहे संविधान एक 126वां संशोधन विधेयक 2019 का मसौदा को मंजूरी दी गई है. देवरिया में सोनौली-नौतनवां-गोरखपुर-देवरिया-बलिया मार्ग राज्य मार्ग संख्या-1 पर (28.900 किमी) रास्ते के निर्माण के प्रस्ताव को मंजूरी दी है. उच्च न्यायालय व अधीनस्थ न्यायालयों में स्थापित CCTV कैमरा व अन्य सुरक्षा उपकरणों की जांच के लिए ECIL फर्म को नामित करने का प्रस्ताव पास किया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें