scorecardresearch
 

गोरखपुर की घटना पर बोले यूपी के एडीजी, इतना बड़ा प्रदेश है, कुछ घटनाएं होती हैं

एडीजी ने दावा किया कि आंकड़े हमारे पक्ष में हैं. जघन्य घटनाओं में कमी आई है. पुलिस किसी भी माफिया-बदमाश के साथ रहम नहीं कर रही. सभी मुख्य माफिया सलाखों के पीछे हैं.

यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार (फाइल फटोः पीटीआई) यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार (फाइल फटोः पीटीआई)

  • एडीजी का दावा- किसी बदमाश पर रहम नहीं कर रही पुलिस
  • तीन साल में नहीं हुए सांप्रदायिक दंगे, अपराध में आई है कमी

उत्तर प्रदेश में लगातार हो रही आपराधिक घटनाओं को लेकर चौतरफा घिरी यूपी पुलिस का दावा है कि अपराधियों में खौफ है. यूपी पुलिस के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने आजतक पर कहा कि यह कह देना ठीक नहीं है कि प्रदेश में कानून-व्यवस्था खराब है. उन्होंने कहा कि यूपी में पिछले तीन साल में एक भी सांप्रदायिक दंगे नहीं हुए, कोई जातीय संघर्ष नहीं हुआ. लोकसभा चुनाव में भी कोई हिंसा नहीं हुई. हमने कुंभ का आयोजन किया.

एडीजी ने दावा किया कि आंकड़े हमारे पक्ष में हैं. जघन्य घटनाओं में कमी आई है. उन्होंने गोरखपुर में कानपुर के बाद गोरखपुर में मासूम छात्र का अपहरण कर हत्या के संबंध में पूछे जाने पर कहा इतना बड़ा प्रदेश है, कुछ घटनाएं होती हैं. अभी अपराध शून्य समाज की अपेक्षा करना ठीक नहीं. यूपी के एडीजी ने दावा किया कि गोरखपुर की घटना के संबंध में जैसे ही जानकारी मिली, पुलिस सक्रिय हुई. शव बरामद किया गया. 10-12 घंटे के अंदर ही सभी अपराधियों को पकड़ लिया गया.

गोरखपुर अपहरण कांड: CM योगी ने दिए सख्त कार्रवाई के निर्देश, 5 लाख के मुआवजे का ऐलान

उन्होंने कहा कि पड़ोसी ने ही अपहरण कर हत्या कर दी थी. सभी को पकड़ लिया गया है. एडीजी ने कहा कि यह कहना गलत है कि पुलिस कुछ नहीं कर रही. पुलिस ने गोंडा में किडनैप बच्चे को सकुशल बरामद किया. उन्होंने कहा कि पुलिस किसी भी माफिया-बदमाश के साथ रहम नहीं कर रही. सभी मुख्य माफिया सलाखों के पीछे हैं. कई माफियाओं ने कोर्ट में शपथ ली है कि हमें बेड़ियों में जकड़कर पेशी पर ले चलिए. प्रशांत कुमार ने कहा कि कई माफिया गले में तख्ती लटकाकर गुड बिहेवियर का संदेश दे रहे.

15 दिन से प्लानिंग, इंजेक्शन देकर किया बेहोश, पढ़ें गोरखपुर किडनैपिंग की Inside Story

बिकरू कांड के संबंध में पूछे जाने पर यूपी के एडीजी ने कहा कि इस घटना में हमारे आठ साथी मारे गए थे. पुलिस के हथियार भी लूटे गए थे. पुलिस ने सारे हथियार बरामद किए. उन्होंने कहा कि घर के अंदर से हथियार बरामद हुए. छापेमारी को लेकर भी काफी लोगों ने सवाल उठाए और कहा कि पुलिस घर की तलाशी ले रही है, परेशान कर रही है और लूटे गए सभी हथियार घर के अंदर से ही बरामद हुए. एडीजी प्रशांत कुमार ने कहा कि बिकरू की घटना में हमारे लोग भी जेल भेजे गए हैं. उन्होंने कहा कि जहां-जहां कमियां हैं, वहां हम काम भी कर रहे हैं.

गोरखपुर किडनैपिंग केस में 5 गिरफ्तार, NSA लगाने की तैयारी में यूपी सरकार

एडीजी ने दावा किया कि यूपी में जिस तरह से अपराध को नियंत्रित किया गया, उसकी हर तरफ तारीफ हो रही है. गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कर्मभूमि गोरखपुर में एक मासूम छात्र का अपहरण करने के बाद अपहर्ताओं ने एक करोड़ की फिरौती मांगी थी. एसटीएफ ने छात्र का शव बरामद किया था. इस घटना के बाद विपक्षी कांग्रेस और समाजवादी पार्टी ने कानून-व्यवस्था के मुद्दे को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधा था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें