scorecardresearch
 

यूपी में पिछड़ा वर्ग आयोग का गठन, जसवंत सैनी बनें अध्यक्ष, दो उपाध्यक्ष समेत 25 सदस्य भी नामित

उत्तर प्रदेश में अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति आयोग के बाद योगी सरकार ने पिछड़ा वर्ग आयोग में भी अध्यक्ष, उपाध्यक्ष व सदस्य नामित कर दिए हैं. जसवंत सैनी को जहां पिछड़ा वर्ग आयोग का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है, वहीं हीरा ठाकुर और प्रभुनाथ चौहान को इस आयोग का उपाध्यक्ष बनाया गया है.

योगी सरकार ने किया पिछड़ा वर्ग आयोग का गठन योगी सरकार ने किया पिछड़ा वर्ग आयोग का गठन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • यूपी में पिछड़ा वर्ग आयोग का गठन
  • एससी-एसटी आयोग के गठन के बाद योगी सरकार का फैसला

उत्तर प्रदेश पिछड़ा वर्ग आयोग का भी गठन हो गया है. जसवंत सैनी को पिछड़ा वर्ग आयोग का अध्यक्ष बनाया गया वहीं हीरा ठाकुर और प्रभुनाथ चौहान उपाध्यक्ष बनाये गए हैं. कल (16 जून) अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति आयोग (एससी-एसटी आयोग) के बाद आज पिछड़ा वर्ग आयोग की घोषणा की गई है. आयोग में 25 सदस्यों की भी नियुक्ति हुई है. 

दरअसल, गुरुवार (17 जून) को प्रदेश में अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति आयोग के बाद योगी सरकार ने पिछड़ा वर्ग आयोग में भी अध्यक्ष, उपाध्यक्ष व सदस्य नामित कर दिए हैं. जसवंत सैनी को जहां पिछड़ा वर्ग आयोग का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है, वहीं हीरा ठाकुर और प्रभुनाथ चौहान को इस आयोग का उपाध्यक्ष बनाया गया है. इसके अलावा आयोग में 25 सदस्य भी नामित किया गए हैं. 

बता दें कि बुधवार को डॉ. रामबाबू हरित को एससी-एसटी आयोग में अध्यक्ष नामित किया गया. जबकि मिथिलेश कुमार व राम नरेश पासवान को आयोग में उपाध्यक्ष नामित किया गया. इसके अलावा 15 अन्य सदस्य भी नामित किया गए हैं.

गौरतलब है यूपी में विधानसभा चुनाव नजदीक है. इसको देखते हुए सत्ताधारी बीजेपी एक्टिव हो गई है. लखनऊ से लेकर दिल्ली तक बैठकों का दौर जारी है. इस बीच सीएम योगी आदित्यनाथ ने हाल में पीएम मोदी, अमित शाह, जेपी नड्डा समेत कई बड़े नेताओं से दिल्ली में मुलाकात की थी.

इसके बाद से ही यूपी में कुछ बड़े कदम उठाए जाने की चर्चा जोर पकड़ने लगी थी. कहा जा रहा है कि जल्द ही अन्य सरकारी संस्थाओं में भी बीजेपी नेताओं व कार्यकर्ताओं का समायोजन किया जाएगा. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें