scorecardresearch
 

UP में नहीं थम रहे रेल हादसे, जानेंं: कब-कब पटरी से उतरीं ट्रेनें

उत्तर प्रदेश के चित्रकूट के पास मानिकपुर में वास्को डा गामा एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई है. ट्रेन के 13 डिब्बे पटरी से उतर गए हैं. वहीं चित्रकूट डीएम श‍िवाकांत के अनुसार हादसे में 3 लोगों की मौत हुई है. हादसे में 10 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं. इनमें 7 की हालत गंभीर है. वहीं किसी भी तरह का राहत कार्य अभी तक शुरू नहीं हो पाया है.

जारी है रेल हादसों का सिलसिला जारी है रेल हादसों का सिलसिला

उत्तर प्रदेश में चित्रकूट के पास मानिकपुर में वास्को डि गामा एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई है. ट्रेन के 13 डिब्बे पटरी से उतर गए हैं. वहीं चित्रकूट डीएम श‍िवाकांत के अनुसार हादसे में 3 लोगों की मौत हुई है. हादसे में 10 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं. इनमें 7 की हालत गंभीर है. बता दें कि किसी भी तरह का राहत कार्य अभी तक शुरू नहीं हो पाया है. ट्रेन वास्को डि गामा से पटना जा रही थी. यूपी में रेल हादसे थमने का नाम ही नहीं ले रहे हैं. इससे पहले भी कई रेल हादसे हुए.

जानें कब-कब हुए रेल हादसे..

पहले भी कई रेल हादसे हो चुके है. सितंबर महीने में यूपी के सोनभद्र जिले में एक और रेल हादसा हुआ था. शक्तिपुंज एक्सप्रेस के 7 डिब्बे पटरी से उतर गए हैं. ट्रेन हावड़ा से जबलपुर जा रही थी. यह घटना ओबरा थाना क्षेत्र के फफराकुंड इलाके में हुई थी. बता दें कि ट्रेन संख्या 11448 HWH-JBP शक्तिपुंज एक्सप्रेस ने ओबरा केबिन सुबह 6.13 पर पार किया था, जिस दौरान उसके 7 डिब्बे पटरी से उतरे. इस ट्रेन में कुल 21 डिब्बे थे.

19 अगस्त को मुजफ्फरनगर में हुआ हादसा

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में रेल हादसा हुआ था. पुरी से हरिद्वार जा रही कलिंग उत्कल एक्सप्रेस ट्रेन मुजफ्फरनगर के खतौली रेलवे स्टेशन के पास पटरी से उतर गई थी. ट्रेन के 14 डिब्बे पटरी से उतरकर अगल-बगल के घरों और एक स्कूल में घुस गए. ये ट्रेन पुरी से हरिद्वार जा रही थी. हादसा 19 अगस्त शनिवार की शाम 5 बजकर 46 मिनट पर हुआ. ट्रेन का नंबर 18477 था. इस हादसे में 23 लोगों की मौत हो गई थी.

यह ट्रेन पुरी से हरिद्वार जाती है. कलिंगा उत्कल एक्सप्रेस इस सफर में कई राज्यों से होकर गुजरती है. इनमें उत्तराखंड, दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड और ओडिशा शामिल हैं. यह ट्रेन रोजाना रात 9 बजे पुरी से चलती है.

23  अगस्त को औरैया में हुआ था

खतौली रेल हादसे के होने के 5 दिन के अंदर कानपुर और इटावा के बीच औरैया जिले में एक और हादसा हुआ. ये ट्रेन आजमगढ़ से दिल्ली आ रही 12225 (अप) कैफियत एक्सप्रेस औरैया के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई. मानव रहित फाटक पर देर रात ट्रेन एक डंपर से टकरा गई थी. उत्तरी-मध्य रेलवे के प्रवक्ता के मुताबिक दुर्घटना की वजह से ट्रेन के इंजन सहित 10 डिब्बे पटरी से उतर गए थे.

मेरठ-लखनऊ राज्यरानी एक्सप्रेस हादसा

मेरठ-लखनऊ राज्यरानी एक्सप्रेस के 8 डिब्बे 15 अप्रैल 2017 को उत्तर प्रदेश में रामपुर के पास पटरी से उतरे, करीब 10 लोग घायल हुए थे. हादसा मुण्डा पांडे और रामपुर रेलवे स्टेशन के बीच हुआ था. रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने घायल यात्रियों के लिए 50,000-50,000 रुपये के मुआवजे की घोषणा की थी.

महाकौशल एक्सप्रेस हादसा

यूपी के महोबा में 30 मार्च, 2017 को महाकौशल एक्सप्रेस पटरी से उतरी, 50 से ज्यादा लोग घायल हुए थे.यह हादसा रात क़रीब 2 से सवा दो बजे महोबा और कुलपहाड़ स्टेशन के बीच हुआ था. हादसे के बाद इलाहाबाद-झांसी रूट प्रभावित हुआ था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें