scorecardresearch
 

यूपी पंचायत चुनाव: 74 साल की उम्र, अब तक लड़ चुके हैं 92 चुनाव, अब 93वीं बार लगाया दांव 

यूपी में पंचायत चुनाव का शोर शुरू हो चुका है. नामांकन की प्रक्रिया चल रही है. ऐसे में कई प्रत्याशी ऐसे हैं, जो पहली बार दिखाई दे रहे हैं, लेकिन हम ऐसे प्रत्याशी की बात कर रहे हैं, जो चुनाव कोई भी हो, लेकिन आपको नामांकन के दौरान दिखाई जरूर देंगे. 

74 साल की उम्र अब तक लड़ चुके हैं 92 चुनाव 74 साल की उम्र अब तक लड़ चुके हैं 92 चुनाव
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राष्ट्रपति चुनाव के लिए भी किया था नामांकन
  • 1985 में हसनुराम ने लड़ा था पहला चुनाव 
  • जिला पंचायत चुनाव के लिए किया नामांकन 

उत्तर प्रदेश के आगरा में जिला पंचायत चुनाव में नामांकन के आखिरी दिन एक ऐसे प्रत्याशी ने अपना नामांकन दाखिल किया है, जो अब तक 1, 2 नहीं 92 चुनाव लड़ चुका है. ये हैं खेरागढ़ के नगला दुल्हे गांव के रहने वाले हसनुराम अंबेडकरी. सन् 1947 में जन्मे अंबेडकरी हसनुराम 74 साल के हो चुके हैं. यह जानकर आपको बेहद हैरत होगी कि अंबेडकरी 74 साल की उम्र में 92 चुनाव लड़ चुके हैं.

अंबेडकरी ने पहला चुनाव सन् 1985 में लड़ा था. विधायकी के पहले चुनाव में अंबेडकरी हार गए,  लेकिन अंबेडकरी के हौसले ने हार नहीं मानी. उन्होंने ग्राम प्रधान से लेकर राष्ट्रपति के चुनाव को लड़ना अपनी नियत ही बना लिया और तब से अब तक हर चुनाव को लड़ रहे हैं. अंबेडकरी ने ग्राम पंचायत सदस्य का चुनाव हो या विधायक, सांसद हो या राष्ट्रपति का  चुनाव, हर किसी में नामांकन दाखिल किया है. 

हसनुराम कहते हैं कि वह चुनाव जीतने के लिए नहीं हारने के लिए लड़ते हैं. अंबेडकरी इस बार जिला पंचायत के वार्ड 31 से सदस्य के रूप में चुनाव लड़ने के लिए मैदान में उतरे हैं. चुनाव के लिए उन्होंने अपना नामांकन दाखिल किया है. आजतक से हुई खास बातचीत में अंबेडकरी ने अपने चुनावी कारवां की हर एक कहानी कैमरे पर बयां की. उन्होंने कहा कि अगर जिंदा रहा तो 2022 का विधानसभा चुनाव भी लड़ लूंगा. 

इसलिए लड़ते हैं हर चुनाव 

पेशे से मनरेगा मजदूर हसनुराम का कहना है कि वो जो भी पैसा कमाते हैं, उसमें से आधा समाजसेवा पर खर्च कर देते हैं. हसनुराम के मुताबिक उनका उद्देश्य यही है कि वे चुनाव हारते रहें जिससे लोगों के बीच में ही हमेशा रहें. हसनुराम ने तंज के अंदाज में कहा कि वो चुनाव जीत गए तो लोगों को पहचान भी नहीं पाएंगे. हसनुराम ने बताया कि फतेहपुर सीकरी लोकसभा सीट से भी चुनाव लड़ा था और करीब 4200 वोट पाए थे.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें