scorecardresearch
 

यूपी: डीजीपी बोले- बीते दो साल में एक भी सांप्रदायिक दंगा नहीं

उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था सही ढंग से काम कर रही है. बीते दो से ढाई वर्ष में यूपी में एक भी सांप्रदायिक झड़प या दंगे के मामला सामने नहीं आया है.

DGP ओपी सिंह DGP ओपी सिंह

  • यूपी के डीजीपी ओपी सिंह ने कहा- यूपी में कानून व्यवस्था ठीक
  • 'पिछले 2.5 साल में यूपी में नहीं हुआ एक भी दंगा'

उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था सही ढंग से काम कर रही है. बीते दो से ढाई वर्ष में यूपी में एक भी सांप्रदायिक झड़प या दंगे के मामला सामने नहीं आया है. डीजीपी ओपी सिंह का यह बयान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ हुई बैठक के बाद आया है.

बता दें कि यूपी की कानून-व्यवस्था की स्थिति पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को पुलिस विभाग के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की. बता दें कि योगी सरकार पर विपक्षी बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के नेता लगातार सवाल उठाते रहे हैं.

सोमवार को समाजवादी पार्टी ने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य सरकार को 'हत्या प्रदेश' बना दिया है. समाजवादी पार्टी ने ट्वीट करते हुए कहा था, 'हत्या प्रदेश की राजधानी बन चुके लखनऊ में अपराधियों को कानून का रत्तीभर डर नहीं! 22 दिन, 12 गोलीकांड और चार हत्याएं. आज सुबह संत कबीर नगर के खलीलाबाद में भी युवक को गोली मारकर बदमाशों द्वारा हत्या. दहशत में जिंदगी, खामोश पुलिस!'

वहीं बीते गुरुवार को बसपा सुप्रीमो मायावती ने उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार के ढाई साल के कार्यकाल को निराशाजनक बताया था. मायावती ने ट्वीट कर लिखा, 'उत्तर प्रदेश भाजपा सरकार का ढाई साल का कार्यकाल जनहित, जनकल्याण व प्रदेश के पिछड़ेपन को दूर करने के लिए विकास के अधिकतर मामलों में निराशाजनक रहा है.'

उन्होंने कहा, 'खासकर अपराध नियंत्रण व कानून-व्यवस्था के मामलों में तो यह सरकार बुरी तरह से विफल साबित हुई है. उत्तर प्रदेश सरकार अपनी इन कमियों पर पर्दा डालते रहने के बजाय उन्हें दूर करने पर ध्यान केन्द्रित करे तो यह प्रदेश व जनहित में ज़्यादा बेहतर होगा.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें