scorecardresearch
 

UP के ग्रामीण इलाकों में नहीं हो रहा कोरोना टेस्ट, शहरों में भी मुश्किल: प्रियंका

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में कोरोना टेस्ट नहीं हो रहा है और शहरों में भी जांच करना मुश्किल है. उन्होंने मांग की कि सरकार जनता को तत्काल प्रभाव से राहत दे.

X
प्रियंका गांधी वाड्रा (फोटो-PTI)
प्रियंका गांधी वाड्रा (फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • प्रियंका गांधी ने सीएम योगी को लिखी चिट्ठी
  • स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करने की मांग की

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को चिट्ठी लिखकर उत्तर प्रदेश में टेस्टिंग न होने मुद्दा उठाया है. प्रियंका गांधी ने कहा कि प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में कोरोना टेस्ट नहीं हो रहा है और शहरों में भी जांच करना मुश्किल है. उन्होंने मांग की कि सरकार जनता को तत्काल प्रभाव से राहत दे.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लिखी चिट्ठी में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि अस्पतालों में बेड, ऑक्सीजन, दवाईयों की घोर किल्लत है और इनकी कालाबाजारी हो रही है, इस लड़ाई में लोगों को कोरोना से लड़ने के लिये अकेला मत छोड़िए, जनता के प्रति मुख्यमंत्री जवाबदेह है.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मांग की कि स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए आर्थिक पैकेज की घोषणा की जाए, ग्रामीण इलाकों में जांच केंद्र खोले जाएं, जीवन रक्षक दवाओं का वितरण हो, हर जिले में आक्सीजन भंडारण के केंद्र स्थापित हो. प्रियंका गांधी की इस चिट्ठी में मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से कोई जवाब नहीं आया है.

बता दें कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कल कहा ता कि कुछ लोग अफवाह फैलाकर लोगों को डराने की कोशिश कर रहे हैं, उत्तर प्रदेश के अस्पतालों में बेड, ऑक्सीजन, रेमडेसिविर इंजेक्शन, दवाइयों की कोई कमी नहीं है और ना कमी आने दी जाएगी. योगी ने कहा था कि कोरोना के दौर में जमाखोरी और कालाबाजारी करने वालों पर सख्त कार्रवाई होगी.

यूपी में बीते 24 घंटे में कोरोना के 33 हजार 574 नए केस आए हैं, जबकि कोरोना के चलते 249 लोगों की मौत हुई. लखनऊ में कोरोना के सबसे ज्यादा 4566 नए मरीज मिले हैं. हालांकि राहत की बात ये है कि लखनऊ में छह हजार से ज्यादा मरीज ठीक हुए हैं. जबकि पूरे प्रदेश में ठीक होने वाले मरीजों की संख्या साढ़े 26 हजार से ज्यादा है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें