scorecardresearch
 

उपचुनाव में हार का असर, योगी ने रद्द किए सभी कार्यक्रम, अफसरों संग करेंगे बैठक

पूर्व में तय कार्यक्रम के मुताबिक, योगी आदित्यनाथ को गोंडा जाना था. वहां पर योगी को 4 दिवसीय लोक कला महोत्सव में हिस्सा लेना था. लेकिन अब उनकी जगह उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा महोत्सव में हिस्सा लेंगे. कार्यक्रम में योगी को नानाजी देशमुख की मूर्ति का अनावरण करना था.

X
योगी ने बुलाई इमरजेंसी बैठक योगी ने बुलाई इमरजेंसी बैठक

गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव के नतीजों से भारतीय जनता पार्टी सकते में है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नतीजों के बाद इसका कारण अतिआत्मविश्वास बताया था. यूपी सीएम ने गुरुवार को होने वाले अपने सारे राजनीतिक कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं. योगी लखनऊ में ही आज अपने अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे.

पूर्व में तय कार्यक्रम के मुताबिक योगी आदित्यनाथ को गोंडा जाना था. वहां पर योगी को 4 दिवसीय लोक कला महोत्सव में हिस्सा लेना था. लेकिन अब उनकी जगह उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा महोत्सव में हिस्सा लेंगे. कार्यक्रम में योगी को नानाजी देशमुख की मूर्ति का अनावरण करना था.

इसे भी पढ़ें.. यूपी उपचुनावः सपा-बसपा की जीत नहीं भाजपा की हार, लेकिन पिक्चर अभी बाकी है

आपको बता दें कि बुधवार को आए गोरखपुर-फूलपुर लोकसभा सीटों के उपचुनावों के नतीजों में भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवारों को करारी हार मिली है. गोरखपुर यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ और फूलपुर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की सीट थी.

हार के बाद क्या बोले थे योगी

गोरखपुर-फूलपुर उपचुनावों में हार के बाद यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि हम इस (बसपा-सपा) गठबंधन को समझने में फेल रहे, जिसका एक कारण अतिआत्मविश्वास भी है. दोनों चुनाव हमारे लिए एक सबक है, इसकी समीक्षा की काफी जरूरत है. योगी ने कहा कि इस फैसले को स्वीकार करते हैं. जीते हुए प्रत्याशी को बधाई देता हूं.

यूपी सीएम बोले कि अंतिम समय में सपा-बसपा एक साथ आई, दोनों पार्टियां राज्यसभा चुनावों की वजह से एक साथ आई. हम इस गठबंधन को समझने में फेल रहे, जिसका एक कारण अतिआत्मविश्वास भी है. हम अपनी कमियों को दूर करने की पूरी कोशिश करेंगे, हम भविष्य की बेहतर योजना पर काम करेंगे.

उन्होंने कहा कि प्रदेश में जो बेमेल राजनीतिक सौदेबाजी का प्रयास शुरू किया गया है, जनता उसको समझती है. उपचुनावों में स्थानीय मुद्दे हावी रहते हैं, आम चुनावों में राष्ट्रीय मुद्दे मुख्य रूप से सामने आते हैं. योगी के अलावा डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने भी इस हार की समीक्षा की बात की है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें