scorecardresearch
 

Udaipur Killing: दोनों आरोपियों का उत्तर प्रदेश कनेक्शन खंगालने पहुंची यूपी ATS

कन्हैया लाल की निर्मम हत्या की घटना के बाद उत्तर प्रदेश एटीएस की टीम भी राजस्थान जाकर आरोपी रियाज और गौस मोहम्मद से पूछताछ करने पहुंची है. एटीएस आरोपी मोहम्मद रियाज व गौस मोहम्मद के मोबाइल व कॉल डिटेल रिकॉर्ड (CDR) एनालिसिस करेगी.

X
कन्हैया की हत्या करने वाले दोनों आरोपी कन्हैया की हत्या करने वाले दोनों आरोपी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राजस्थान पहुंची यूपी एटीएस की टीम
  • दोनों आरोपियों से करेगी पूछताछ

राजस्थान के उदयपुर में टेलर कन्हैया लाल की निर्मम हत्या की घटना के बाद उत्तर प्रदेश एटीएस की टीम भी राजस्थान जाकर आरोपी रियाज और गौस मोहम्मद से पूछताछ करने पहुंची है. एटीएस की टीम यह जानने की कोशिश करेगी कि उनके आका या उनसे जुड़े लोग उत्तर प्रदेश में भी तो नहीं है.

यही नहीं एटीएस की टीम यह भी जानने की कोशिश करेगी कि उत्तर प्रदेश में कितने लोग इनके संपर्क में थे? इन सभी की डिटेल कॉल रिकॉर्डिंग के साथ पूछताछ में की जाएगी. राजस्थान के उदयपुर की घटना के बाद उत्तर प्रदेश में भी हाई अलर्ट किया गया, जिसके बाद उत्तर प्रदेश एटीएस की टीम को उदयपुर रवाना किया गया.

एटीएस की टीम यह जानने की कोशिश कर रही है कि कहीं इसके तार उत्तर प्रदेश से तो नहीं जुड़े हुए हैं. एटीएस के एडिशनल एसपी को रवाना किया गया है. हालांकि वहां पहुंचते ही दोनों हत्यारों को जेल भेज दिया गया था, जिससे पूछताछ नहीं हो पाई है लेकिन रिमांड पर लेने पर उनसे पूछताछ की जाएगी और उत्तर प्रदेश से जुड़े होने के तार खंगाले ले जाएंगे.

एडीजी एटीएस ने बताया कि उन्हें आंशका है कि उदयपुर घटना के आरोपियों ने या उनके किसी कट्टरपंथी संगठन ने यूपी के भी लड़कों को भड़काया है.  यही नही उनके कई साथी यूपी में भी हो सकते है. आरोपियों का यूपी से क्या और किस तरह का कनेक्शन हो सकता है, इसकी जानकारी इकट्ठा करने एटीएस की टीम को राजस्थान भेजा गया है.

नवीन अरोड़ा के मुताबिक, एटीएस आरोपी मोहम्मद रियाज व गौस मोहम्मद के मोबाइल व कॉल डिटेल रिकॉर्ड (CDR) एनालिसिस करेगी. साथ ही आरोपियों के मोबाइल उपकरणों की भी जांच की जाएगी और यह पता लगाने की कोशिश की जाएगी कि उन्होंने यूपी में किन-किन लोगों से वॉट्स एप या फिर अन्य सोशल मीडिया एकाउंट के जरिये सम्पर्क किया गया.

नवीन अरोड़ा ने कहा कि मोबाइल में मौजूद यूपी के सभी नंबरों मो जांचा जाएगा. उन्होंने कहा कि एटीएस आरोपियों के सीडीआर भी खंगालेगी. यूपी के जिन भी लोगों से आरोपियों की बात हुई होगी उनकी जांच की जाएगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें