scorecardresearch
 

एक और गन्ना किसान ने की आत्महत्या

फसल का भुगतान न होने से परेशान गन्ना किसानों की आत्महत्याओं का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है. सीतापुर में गन्ने का बकाया भुगतान न मिलने से परेशान गन्‍ना किसान ने फांसी लगा कर खुदकुशी कर ली.

फसल का भुगतान न होने से परेशान गन्ना किसानों की आत्महत्याओं का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है. सीतापुर में गन्ने का बकाया भुगतान न मिलने से परेशान गन्‍ना किसान ने फांसी लगा कर खुदकुशी कर ली.

चीनी मिल पर तीन पर्चियों की रकम बकाया होने के कारण वह परेशान था. महोली कोतवाली इलाके के कुसैला गांव निवासी राकेश कुमार वर्मा (35) की पत्नी और बच्चे शादी समारोह में शामिल होने रिश्तेदारी में गए थे. बुधवार दोपहर राकेश भी घर से निकल गया. जिसके बाद वह वापस नहीं पहुंचा.

शाम करीब चार बजे कुछ चरवाहे और गांव वालों को आम के पेड़ के नीचे राकेश कुमार की रस्सी से गला कसी लाश मिली. आधी रस्सी आम के पेड़ में बंधी थी. इसके बाद लोगों ने घर खबर दी तो वहां काफी ग्रामीण एकत्र हो गए. राकेश की तीन पर्ची गन्ने का करीब 28 हजार रुपया चीनी मिल पर बकाया था, जिसके कारण व ह परेशान चल रहा था.

हालांकि पुलिस का तर्क है कि राकेश कुमार वर्मा मानसिक रूप से बीमार चल रहा था जिसके चलते उसने जान दे दी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें