scorecardresearch
 

मुख्तार अंसारी के बाद अतीक अहमद पर कार्रवाई, ऑफिस से राइफल-पिस्टल बरामद

अतीक अहमद के जेल जाने के बाद साल 2017 में शस्त्र लाइसेंस निरस्त कर दिया गया था. लाइसेंस निरस्त कर दिए जाने के बावजूद अतीक ने असलहे जमा नहीं कराए थे.

बाहुबली अतीक अहमद (फाइल फोटो) बाहुबली अतीक अहमद (फाइल फोटो)

  • पूर्व सांसद के चकिया कार्यालय से बरामद हुए असलहे
  • अतीक के जेल जाने के बाद निरस्त हुआ था लाइसेंस

बाहुबलियों और माफियाओं के खिलाफ ऑपरेशन क्लीन चला रही उत्तर प्रदेश पुलिस की रडार पर अब पूर्व सांसद अतीक अहमद भी आ गए हैं. प्रयागराज पुलिस ने जेल में बंद बाहुबली अतीक के कार्यालय से दो असलहे बरामद किए हैं. मंगलवार को प्रयागराज के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) अभिषेक दीक्षित ने यह जानकारी दी.

आजम, मुख्तार के बाद योगी के निशाने पर अतीक अहमद

एसएसपी ने बताया कि अतीक अहमद के जेल जाने के बाद साल 2017 में शस्त्र लाइसेंस निरस्त कर दिया गया था. उन्होंने कहा कि शस्त्र लाइसेंस निरस्त कर दिए जाने के बावजूद अतीक ने असलहे जमा नहीं कराए थे. एसएसपी ने कहा कि इस मामले में अतीक के खिलाफ पुलिस ने इसी साल मार्च महीने में दो एफआईआर दर्ज की थी.

यूपीः MLA मुख्तार अंसारी पर सरकार सख्त, 4 करीबियों के शस्त्र लाइसेंस निलंबित

एसएसपी ने कहा कि प्रयागराज के खुल्दाबाद थाने में दोनों एफआईआर दर्ज की गई थी. इसी मामले में पुलिस ने अतीक के चकिया स्थित कार्यालय पर छापेमारी किया. इस दौरान अतीक के कार्यालय से दो असलहे बरामद किए गए. बरामद किए गए असलहों में एक राइफल और एक पिस्टल शामिल हैं. गौरतलब है कि अतीक से पहले पुलिस ने पूर्वांचल के ही एक अन्य बाहुबली मुख्तार अंसारी के करीबियों के शस्त्र लाइसेंस भी निरस्त कर असलहे जमा कराए थे.

यूपी के बाहुबली विधायक विजय मिश्र पर कसा शिकंजा, गुंडा एक्ट के तहत कार्रवाई

मऊ सदर सीट से विधायक मुख्तार के आधा दर्जन से अधिक करीबियों और रिश्तेदारों के असलहे जमा कराए जा चुके हैं. वहीं, भदोही के बाहुबली विधायक विजय मिश्र के खिलाफ भी पुलिस ने चंद रोज पहले ही गुंडा एक्ट के तहत मामला दर्ज किया था. विजय मिश्र के खिलाफ गुंडा एक्ट की कार्रवाई पुलिस ने टोल प्लाजा से जुड़े एक व्यावसायी को धमकी देने का ऑडियो वायरल होने के बाद स्वतः संज्ञान लेकर की थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें