scorecardresearch
 

यूपी पंचायत चुनाव में व्हाट्सएप से लगेगी थानेदारों की हाजिरी

भले ही पंचायत चुनावों का बिगुल शासन स्तर से न बजा हो, लेकिन पुलिस प्रशासन तैयारियों में जुट गया है. शासन की ओर से पंचायत चुनाव को लेकर व्हाट्सएप से मतदान केंद्र पर थानेदार की हाजिरी का आदेश जारी किया गया है.

पंचायत चुनाव में व्हाट्सएप से थानेदारों को हाजिरी लगाने का आदेश दिया गया है. पंचायत चुनाव में व्हाट्सएप से थानेदारों को हाजिरी लगाने का आदेश दिया गया है.

भले ही पंचायत चुनावों का बिगुल शासन स्तर से न बजा हो, लेकिन पुलिस-प्रशासन तैयारियों में जुट गया है. शासन की ओर से पंचायत चुनाव में व्हाट्सएप से थानेदार की हाजिरी का आदेश जारी किया गया है.

थानेदार अब तक शासन से आने वाले प्रपत्र को थाने में ही बैठकर भर लेते थे. लेकिन अब ऐसा नहीं कर पाएंगे. शासन ने साफ कह दिया है कि थानेदार मतदान केंद्र पर जाकर ही प्रपत्र को भरेंगे.

इस प्रपत्र में 22 बिंदु का जिक्र किया गया है, वे थाने में बैठकर नहीं भरे जा सकते. मोबाइल से खींचे गए फोटो ही उनकी उपस्थिति प्रमाणित करेंगे. इनको व्हाट्सएप के जरिए पुलिस कप्तान को भेजना जरूरी होगा.

पंचायत चुनाव के लिए पहली बार यह व्यवस्था होगी कि पुलिस बल को तीन श्रेणियों में बांटा गया है. ए श्रेणी के जवान अति संवेदनशील और बी श्रेणी के संवेदनशील और डी श्रेणी के सामान्य बूथों पर लगाए जाएंगे.

विज्ञप्ति के मुताबिक, अति संवेदनशील गांव में झगड़े की आशंका वाले ग्रामीणों को पाबंद करने के लिए कहा गया है. पांच चरणों में होने वाले चुनाव को लेकर प्रशासन की मांग पर अतिरिक्त पुलिस बल भी मुहैया कराया जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें