scorecardresearch
 

'PM मोदी के कार्यक्रम के लिए सुल्तानपुर के DM ने मांगीं 2000 बसें', लेटर वायरल

पीएम मोदी की सभा में शामिल होने के लिए करीब 2 लाख लोगों को लाया जाएगा. इतने लोगों को लाने और ले जाने के लिए सुल्तानपुर के जिलाधिकारी ने दो हजार बसें उपलब्ध कराने को कहा है.

X
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • डीएम बोले- यूपीडा उठाएगा पूरा खर्च
  • भीड़ जुटाने के लिए मांगी गईं बसें

उत्तर प्रदेश की सत्ता का रास्ता पूर्वांचल से होकर जाता है. यूपी चुनाव को फतह करने की कोशिश में जुटे राजनीतिक दलों का सियासी सफर पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के रास्ते ही तय होगा. यही वजह है कि चुनावी बहार के बीच पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का लोकार्पण पीएम नरेंद्र मोदी के हाथों से कराकर सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पूर्वांचल की सीटों को साधने की कोशिश में है.

पीएम मोदी 16 नवंबर को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुल्तानपुर जिले में 340 किलोमीटर लम्बे पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करेंगे. इस एक्सप्रेस वे के उद्घाटन का संदेश दूर-दूर तक जाए इसके लिए इस कार्यक्रम में भारी भीड़ जुटाने की पुरजोर कोशिश की जा रही है. पीएम मोदी की सभा में शामिल होने के लिए करीब 2 लाख लोगों को लाया जाएगा. इतने लोगों को लाने और ले जाने के लिए सुल्तानपुर के जिलाधिकारी ने दो हजार बसें उपलब्ध कराने को कहा है.

सुल्तानपुर के जिलाधिकारी रवीश गुप्ता की तरफ से रोडवेज के प्रबंध निदेशक को बसों का इंतजाम करने के लिए पत्र लिखा गया है, यानी सरकारी खर्च से यह कार्यक्रम कराया जा रहा है. बसों पर खर्च होने वाली रकम का भुगतान उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवेज औद्योगिक विकास प्राधिकरण यानी यूपीडा करेगा. जिलाधिकारी की ओर से लिखा गया ये पत्र अब सोशल मीडिया पर वायरल हो गया और इसको लेकर सियासी गलियारे में तल्ख टिप्पणी की जाने जाने लगी है.

सुल्तानपुर के जिलाधिकारी रवीश गुप्ता ने पत्र में मोदी के कार्यक्रम में भीड़ को जनसभा स्थल तक ले जाने के लिए उत्तर प्रदेश परिवहन निगम लखनऊ के प्रबंध निदेशक से 2 हजार बसें मांगी हैं. इसके लिए 70 फीसदी बसें सुल्तानपुर से और बाकी 30 फीसदी बसें अंबेडकरनगर और अयोध्या से भेजी जानी हैं. इसमें खर्च होने वाली रकम का भुगतान उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवेज औद्योगिक विकास प्राधिकरण यूपीडा को करने के लिए कहा गया है. ये पत्र ऐसे समय वायरल हो रहा है जब पूरा विपक्ष बीजेपी की सरकार के खिलाफ लामबंद होकर लगातार हमलावर है. ऐसे में मोदी के कार्यक्रम में राजस्व की क्षति के नाम से इस मुद्दे को लेकर सोशल मीडिया पर ट्रोलिंग शुरू हो गई है.

क्या कहते हैं डीएम

जिलाधिकारी रवीश गुप्ता ने बताया कि परिवहन निगम को पत्र लिखकर एयर शो के लिए बस मांगी गई है. सबको व्यवस्थित तरीके से लाना होगा. भुगतान को लेकर सवाल पर जिलाधिकारी ने कहा कि यूपीडा का ही पूरा फंक्शन है, वही करेंगे. जितना अरेंजमेंट हो रहा है, सब यूपीडा की ओर से ही किया जा रहा है. एयरफोर्स के रुकने और भोजन का प्रबंध भी यूपीडा की ओर से ही किया जाएगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें