scorecardresearch
 

पंचायत आजतकः साध्वी निरंजन ज्योति के बदले सुर, कहा - विकास की राह में रोड़ा नहीं बनेगा मंदिर

साध्वी ज्योति ने कहा कि राम मंदिर आस्था का सवाल है. मंदिर बनने के लिए या तो सर्वसम्मति से बैठकर फैसला करना होगा या फिर कोर्ट के फैसले का इंतजार करना होगा.

X
साध्वी निरंजन ज्योति साध्वी निरंजन ज्योति

कट्टर हिंदुत्व की छवि वाली केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने सोमवार को कानपुर में 'आज तक' की पंचायत में राम मंदिर को लेकर एक नई बात कह दी. अपनी छवि के उलट उन्होंने कहा की राम मंदिर के मुद्दे को विकास के रास्ते में रोड़ा नहीं बनने दिया जा सकता.

राम मंदिर आस्था का सवाल
साध्वी ज्योति ने कहा कि राम मंदिर आस्था का सवाल है. मंदिर बनने के लिए या तो सर्वसम्मति से बैठकर फैसला करना होगा या फिर कोर्ट के फैसले का इंतजार करना होगा. जब उनसे पूछा गया कि क्या हर बार अपने घोषणापत्र में राम मंदिर की बात करने वाली बीजेपी अब इस मुद्दे को विकास की राह में रोड़ा मानती है, तो उन्होंने इतना भर कहा कि मंदिर का मामला अदालत में है और फैसले का इंतजार करना ही होगा.

रामजादे बयान पर जताया अफसोस
साध्वी निरंजन ज्योति की छवि एक ऐसे कट्टर हिंदू नेता की है जो अपने विवादास्पद बयानों की वजह से अक्सर चर्चा में रहती हैं. रामजादे को लेकर उनका बयान बेहद सुर्खियों में रहा था. इसकी वजह से बीजेपी को काफी फजीहत झेलनी पड़ी थी. लेकिन 'आज तक' के इस कार्यक्रम में जब उनसे इस विवादास्पद बयान के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बिना लाग लपेट कहा कि उनका यह बयान गलत था और उन्हें ऐसी भाषा के इस्तेमाल करने का अफसोस है.

यूपी में चुनाव के मौके पर साध्वी निरंजन ज्योति का राम मंदिर को लेकर दिया बयान इस बात का स्पष्ट संकेत है कि बीजेपी फिलहाल इस मुद्दे को गर्म नहीं करना चाहती. साथ ही उसे नहीं लगता कि इस वक्त राम मंदिर के मुद्दे पर वोट बटोरे जा सकते हैं.

यूपी में राम मंदिर का मुद्दा हाल में तब फिर से चर्चा में आया था जब सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने एक कार्यक्रम में बोलते हुए कहा था कि उन्होंने सेकुलरिज्म की रक्षा के लिए अयोध्या में कारसेवकों पर गोलियां चलवाई थी. निरंजन ज्योति ने कहा कि मुसलमानों का वोट बटोरने के लिए मुलायम सिंह यादव ऐसे बयान दे रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें