scorecardresearch
 

नोएडा : मालिकों को पालतू जानवरों का कराना होगा रजिस्ट्रेशन, शिकायत पर लगेगा जुर्माना; ऐप लॉन्च

प्राधिकरण का यह ऐप प्ले स्टोर पर भी मौजूद है. हालांकि, अभी यह पूरी तरह से काम नहीं कर रहा है. हालांकि, प्राधिकरण का कहना है कि यह जल्द ठीक से काम करने लगेगा. पेट्स का रजिस्ट्रेशन करने के बाद ऐप पर ही लेटर और उसे पालने वाले की जानकारी मिलेगी.

प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 1000 रुपए में होगा 1 साल के लिए रजिस्ट्रेशन
  • प्ले स्टोर पर मौजूद है ऐप

अगर आप पेट्स यानी पालतू जानवरों को रखने के शौकीन हो तो आपके लिए जरूरी खबर है. दरअसल, नोएडा में अब सभी लोगों को अपने पालतू जानवरों का रजिस्ट्रेशन कराना होगा. इसके लिए नोएडा प्राधिकरण ने ऐप भी लॉन्च की है. 'नोएडा पेट रजिस्ट्रेशन ऐप' के जरिए उन सभी लोगों को अपने पेट का रजिस्ट्रेशन कराना पड़ेगा, जिनके पास पालतू जानवर हैं. हालांकि, पेट्स का रजिस्ट्रेशन घर बैठे ऐप के जरिए कर सकेंगे. 

प्राधिकरण का यह ऐप प्ले स्टोर पर भी मौजूद है. हालांकि, अभी यह पूरी तरह से काम नहीं कर रहा है. हालांकि, प्राधिकरण का कहना है कि यह जल्द ठीक से काम करने लगेगा.  पेट्स का रजिस्ट्रेशन करने के बाद ऐप पर ही लेटर और उसे पालने वाले की जानकारी मिलेगी. खास बात ये है कि ऐप पर 1000 रुपए में 1 साल के लिए रजिस्ट्रेशन होगा. पेट के मालिकों को हर साल रजिस्ट्रेशन को रिन्यू कराना होगा. 

जानवर का फोटो भी करना होगा अपलोड
इस ऐप को आसानी से मोबाइल पर डाउनलोड किया जा सकेगा. ऐप डाउनलोड करने के बाद आपको न्यू रजिस्ट्रेशन का ऑप्शन दिखेगा. इस पर क्लिक करने के बाद अपने पेट की जानकारी देनी होगी. पहचान के लिए उसका फोटो भी अपलोड करना होगा. इसके बाद आपको रजिस्ट्रेशन की फीस जमा करनी होगी. हालांकि, पड़ोसी या अन्य किसी के द्वारा आपके पेट्स की कोई शिकायत मिलती है, तो आप पर जुर्माना भी लग सकता है. 

इतना ही नहीं नोएडा प्राधिकरण पेट लवर्स के लिए सेक्टर 137 में बेहतरीन डॉग पार्क बना रहा है. तारिणी अथॉरिटी ने कुछ दिन पहले ही 2 करोड़ 65 लाख रुपये के टेंडर भी जारी किए हैं. इस पार्क में डॉग के खेलने, खाने-पीने और ट्रेनिंग की व्यवस्था होगी. साथ ही मालिकों के बैठने के लिए पवेलियन भी बनवाए जाएंगे. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें