scorecardresearch
 

कोरोना को लेकर नोएडा प्रशासन अलर्ट, बॉर्डर पर हो रही रैंडम टेस्टिंग

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों को ध्यान में रखते हुए नोएडा में भी प्रशासन ने अपने स्तर पर तैयारियां शुरू कर दी हैं. दरअसल, दिल्ली और नोएडा के बीच हजारों की संख्या में हर दिन लोगों का आना-जाना होता है. जिस वजह से नोएडा प्रशासन ने भी कुछ एहतियाती कदम उठाने का फैसला लिया है.

नोएडा में बॉर्डर पर की जाएगी रैंडम टेस्टिंग (फाइल फोटो: PTI) नोएडा में बॉर्डर पर की जाएगी रैंडम टेस्टिंग (फाइल फोटो: PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • नोएडा में कोरोना संक्रमण को लेकर प्रशासन हुआ सतर्क
  • दिल्ली से सटे बॉर्डर पर अब कराई जाएगी रैंडम टेस्टिंग
  • क्रॉस बॉर्डर आवागमन से नोएडा में बढ़ रहे कोरोना केस

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों को ध्यान में रखते हुए नोएडा में भी प्रशासन ने अपने स्तर पर तैयारियां शुरू कर दी हैं. दरअसल, दिल्ली और नोएडा के बीच हजारों की संख्या में हर दिन लोगों का आना-जाना होता है. जिस वजह से नोएडा प्रशासन ने भी कुछ ऐहतियाती कदम उठाने का फैसला लिया है.

गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी ने यह बात स्वीकार की है कि क्रॉस बॉर्डर आवागमन के चलते जिले में कोरोना संक्रमण बढ़ा है. यही वजह है कि उन्होंने इससे निपटने के लिए एक ठोस प्लान बनाया है.

गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी सुहास एल वाई ने इसके लिए एक्शन प्लान तैयार किया है. जानकारी के मुताबिक जिले में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए अब क्रॉस बॉर्डर संक्रमण को देखते हुए नोएडा से सटे सभी बॉर्डर पर रेंडम टेस्टिंग कराई जाएगी. इसके साथ ही गौतमबुद्ध नगर के सभी इंस्टीट्यूशनल्स को एडवाइजरी जारी की गई है, जिसके तहत क्रॉस बॉर्डर आवागमन करने वालों पर खास नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं.

देखें: आजतक LIVE TV

इसके अलावा जिन इलाकों में एक से ज्यादा कोरोना संक्रमित व्यक्ति मिलेगा, उन इलाकों को माइक्रो कंटेनमेंट जोन में तब्दील किया जाएगा. जिसके बाद इनकी टारगेट सैंपलिंग की जाएगी, जिसमें डिलीवरी ब्वॉय, दुकानदार, रिक्शा चालक सहित अन्य लोग भी शामिल होंगे.

दिल्ली में फिर सख्ती की तैयारी!

दिल्ली में कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है. इस वजह से दिल्ली सरकार ने शादियों में मिली छूट वापस ले ली है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि हमने शादी समारोह में 200 लोगों तक के शामिल होने की इजाजत को वापस ले लिया है. अब सिर्फ 50 लोग ही शादी समारोह में शामिल हो सकते हैं. इसके अलावा दिल्ली में छोटे-छोटे हिस्सों में लॉकडाउन भी लग सकता है. इस बारे में केंद्र सरकार को दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने प्रस्ताव भेजा है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें