scorecardresearch
 

Noida: अतिक्रमण कर बनाए गए 62 फार्म हाउस पर चला बुलडोजर, 55 करोड़ की जमीन कराई गई मुक्त

नोएडा अथॉरिटी ने अतिक्रमण के खिलाफ लगातार अभियान चलाते हुए 62 फार्म हाउस पर बुलडोजर चला दिया है. नोएडा अथॉरिटी की सीईओ ऋति महेश्वरी ने कहा है कि हिंडन और यमुना नदी की जमीन पर अतिक्रमण कर फार्म हाउस बनाने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

X
नोएडा अथॉरिटी ने अवैध रूप से बनाए गए 62 फार्म हाउस को ध्वस्त कर दिया. नोएडा अथॉरिटी ने अवैध रूप से बनाए गए 62 फार्म हाउस को ध्वस्त कर दिया.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 9 जेसीबी के साथ पहुंची थी टीम
  • कानूनी कार्रवाई की दी चेतावनी

यमुना और हिंडन नदियों की जमीनों पर अतिक्रमण कर बनाए गए अवैध फार्म हाउसों पर बुलडोजर चला दिया गया. नोएडा प्राधिकरण के वर्क सर्किल-10, भूलेख विभाग नोएडा एवं सिंचाई विभाग की संयुक्त टीम का अब तक का ये सबसे बड़ा अभियान है. संयुक्त टीम ने तिलवाड़ा गांव में 55 और गुलावली गांव में 7 फार्म हाउस जमींदोज कर दिया और कुल 1 लाख 45 हजार वर्ग मीटर जमीन को अतिक्रमण मुक्त कराया. अतिक्रमण मुक्त कराई गई जमीन की कीमत 55 करोड़ रुपये बताई गई है.

अतिक्रमण करने वालों के खिलाफ FIR दर्ज कर कानूनी कार्यवाही की जा रही है. नोएडा (New Okhla Industrial Development Authority) की CEO रितु महेश्वरी ने कहा कि यह अभियान लगातार जारी रहेगा. भूमाफिया पर कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

9 जेसीबी के साथ पहुंची थी अधिकारियों-कर्मचारियों की टीम

प्राधिकरण के OSD प्रसून द्विवेदी ने बताया कि बुधवार सुबह करीब 9 बजे करीब 150 छोटे-बड़े कर्मचारियों और अधिकारियों की टीम 9 जेसीबी मशीन और 8 डंपर के साथ सेक्टर-150 पहुंची. यहां तिलवाड़ा गांव के पास यमुना नदी के डूब क्षेत्र में अवैध रूप से बनाए गए 55 फार्म हाउस को तोड़ दिया गया. करीब 4 घंटे चली इस कार्रवाई के दौरान 1 लाख 20 हजार वर्ग मीटर जमीन को अतिक्रमण मुक्त करवाया गया है. नोएडा अथॉरिटी के साथ पुलिस और सिंचाई विभाग के अधिकारी भी मौजूद रहे. 

गुलावली गांव में 7 फार्म हाउस पर चला बुलडोजर

इसके बाद नोएडा अथॉरिटी का दस्ता गुलावली गांव के पास अवैध रूप से बनाए जा रहे फार्म हाउसों को गिराने पहुंचा. यहां करीब 25 हजार वर्ग मीटर जमीन पर बने 7 फार्म हाउस गिरा दिए गए. कुल मिलाकर बुधवार को इस कार्यवाही के दौरान प्राधिकरण ने 1 लाख 45 हजार वर्ग मीटर जमीन अतिक्रमण मुक्त करवाई है. प्राधिकरण की ओर से इस जमीन की कीमत करीब 55 करोड़ रुपये बताई गई है. 

ऋतु महेश्वरी ने दी चेतावनी

नोएडा की मुख्य कार्यपालक अधिकारी ऋतु महेश्वरी ने लोगों को आगाह किया है कि नोएडा के डूब क्षेत्र में कोई भी निर्माण पूरी तरह वर्जित है. ऐसी स्थिति में अवैध फार्म हाउस का क्रय-विक्रय करने वाले लोगों पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें