scorecardresearch
 

लखीमपुर हिंसा के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा ने किया सरेंडर, सुप्रीम कोर्ट ने रद्द की थी जमानत

लखीमपुर हिंसा के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा ने लखीमपुर की निचली अदालत में सरेंडर कर दिया है. आशीष मिश्रा को इलाहाबाद हाईकोर्ट से मिली जमानत सुप्रीम कोर्ट ने रद्द कर दी थी.

X
आशीष मिश्रा (फाइल फोटोः आजतक) आशीष मिश्रा (फाइल फोटोः आजतक)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • छुट्टी के दिन सीजेएम कोर्ट पहुंचकर किया सरेंडर
  • सुप्रीम कोर्ट ने 7 दिन के अंदर सरेंडर करने को कहा था

यूपी के गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे और लखीमपुर हिंसा के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा ने लखीमपुर की निचली अदालत में सरेंडर कर दिया है. लखीमपुर पुलिस ने सरेंडर करने के बाद आशीष मिश्रा को जेल भेज दिया है. आशीष मिश्रा मोनू को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने जमानत दे दी थी. आशीष मिश्रा को मिली जमानत के बाद मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया था.

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्रीय गृह राज्यमंत्री के बेटे और लखीमपुर हिंसा के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा को मिली जमानत रद्द कर दिया था. जानकारी के मुताबिक आशीष मिश्रा रविवार को छुट्टी के दिन ही सरेंडर कर दिया. बताया जाता है कि आशीष मिश्रा ने सीजेएम की कोर्ट में पहुंचकर सरेंडर कर दिया.

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने आशीष मिश्रा को इलाहाबाद हाईकोर्ट से मिली जमानत रद्द करते हुए तल्ख टिप्पणियां की थी. सुप्रीम कोर्ट ने आशीष की जमानत रद्द करते हुए उसे सात दिन के अंदर सरेंडर करने के लिए कहा था. सुप्रीम कोर्ट की ओर से आशीष मिश्रा को सरेंडर करने के लिए दिए गए सात दिन की समय-सीमा कल यानी 25 अप्रैल को पूरी हो रही थी.

ये भी पढ़ें- लखीमपुर केस में कमेटी ने SC को सौंपी रिपोर्ट, आशीष मिश्रा की बेल को लेकर अहम दावा

25 अप्रैल को सोमवार का दिन है. हफ्ते के पहले दिन कोर्ट में काफी भीड़भाड़ होती है. ऐसे में माना जा रहा है कि भीड़ से बचने के लिए ही आशीष मिश्रा ने छुट्टी के दिन रविवार को ही लखीमपुर की निचली अदालत में सरेंडर कर दिया. बता दें कि आशीष किसानों के आंदोलन के दौरान लखीमपुर में हुई हिंसा के मामले में मुख्य आरोपी है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें