scorecardresearch
 

'खुशी दुबे सबको याद, लेकिन बिकरू के शहीदों को भूल गए नेता', छलका परिजनों का दर्द

जब सभी राजनैतिक दल सिर्फ खुशी दुबे की ही बात करने लगे है तो उनसे संगम नगरी प्रयागराज में रहने वाले शहीद दारोगा नेबुलाल के परिवार वाले खासे नाराज हो गए हैं. उनका कहना है कि सभी नेता शहीदों को भूल गए हैं.

शहीद दारोगा नेबुलाल के परिवार वाले शहीद दारोगा नेबुलाल के परिवार वाले
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शहीद दारोगा नेबुलाल के परिजन नाराज
  • बोले- शहीदों को भूल गए सभी राजनीतिक दल

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में बिकरू कांड और खुशी दुबे का मुद्दा खूब जोरशोर से उठाया जा रहा है. बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) से लेकर समाजवादी पार्टी (सपा) तक... सभी खुशी दुबे को इंसाफ देने की मांग कर रहे हैं. इन सबके बीच कानपुर के बिकरु कांड में शहीद हुए परिवार वालों का जख्म एक बार फिर ताज़ा हो गया है.

जब सभी राजनैतिक दल सिर्फ खुशी दुबे की ही बात करने लगे है तो उनसे संगम नगरी प्रयागराज में रहने वाले शहीद दारोगा नेबुलाल के परिवार वाले खासे नाराज हो गए हैं. उनका कहना है कि सभी नेता सिर्फ ब्राह्मणों की बात करते हैं, लेकिन कोई उनको याद नहीं करता जिन्होंने अपनी शहादत दी है.
 
प्रयागराज से 50 किलोमीटर दूर हंडिया के भीटी गांव के रहने वाले दारोगा नेबुलाल भी इस बिकरु कांड में शहीद हो गए थे. उनके परिवार वाले दुःखी मन से कहते हैं कि सभी नेता ब्राह्मण वोट बैंक को साधने के लिए सिर्फ खुशी दुबे की बात कर रहे हैं, लेकिन उन परिवारों को कोई याद नहीं कर रहे हैं, जो इस घटना में शहीद हुए हैं.

शहीद नीबू लाल के पिता कालका प्रसाद भी उस बात को याद करते-करते रो पड़ते हैं और कहते है कि नेता तो कई आए और तमाम वादे किए लेकिन कोई वादा पूरा न हुआ. कालका का छोटा बेटा अरविंद कुमार भी इस बात से दुखी है कि सभी नेता सिर्फ खुशी दुबे की बात कर रहे हैं, क्योंकि वह ब्राह्मण है. 

अरविंद ने कहा कि ना तो किसी नेता ने किए गए वादों को पूरा किया और ना कोई उनसे अब पूछने आ रहा है लेकिन हर तरफ सिर्फ खुशी दुबे की ही बात हो रही है.

वहीं अरविंद की चाची भी नेताओं की वादाखिलाफी से खासी नाराज हैं और बेटों के लिए नौकरी की मांग कर रही हैं. हालांकि अरविंद की उम्र अभी कम है, इस वजह से मिली नौकरी को उन्होंने अभी होल्ड कर रखा है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें