scorecardresearch
 

योगी के UP में अब मुस्लिमों ने लगाए राम मंदिर बनवाने के लिए बैनर

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर तेज होती कवायद के बीच राजधानी लखनऊ में मंदिर निर्माण को लेकर कई जगह-जगह होर्डिंग्स और बैनर लगे हैं. इन बैनरों की खास बात यह है कि इसे कुछ मुस्लिम संगठनों ने लगाया है.

लखनऊ में कई जगह लगे दिखे ये पोस्टर लखनऊ में कई जगह लगे दिखे ये पोस्टर

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर तेज होती कवायद के बीच राजधानी लखनऊ में मंदिर निर्माण को लेकर कई जगह-जगह होर्डिंग्स और बैनर लगे हैं. इन बैनरों की खास बात यह है कि इसे कुछ मुस्लिम संगठनों ने लगाया है. इन संगठनों ने होर्डिंग्स-बैनर में सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर दोनों पक्षों से मिल-बैठकर मामला सुलझाने की अपील की गई है.

ऐसे ही एक संगठन 'श्री राम मंदिर निर्माण मुस्लिम कारसेवक मंच' के अध्यक्ष आजम खान ने लखनऊ में ऐसे करीब 10 होर्डिंग्स लगाए हैं, जिसमें उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों पर आगे बढ़ने का आह्वान किया है. इस बारे में हमने जब आजम खान से संपर्क किया, तो बंदूकधारी गार्ड से घिरे आजम खान कहते हैं, 'राम हिन्दुओं की तरह मुस्लिमों के लिए आदरणीय हैं. मुझे 'जय श्री राम' कहने में कोई हिचक नहीं.'

आजम का दावा है कि उनके साथ बड़ी तादाद में युवा जुड़ रहे हैं. ये लोग दोनों समुदायों के बीच सौहार्द्र बढ़ाने की कोशिशों में जुटे हैं. हालांकि इसके साथ ही आजम यह भी कहते हैं कि उन्हें इस कदम से बाद से कई धमकियां मिल रही हैं.

इंडिया टुडे से बातचीत में वह कहते हैं, 'मुझे ई-मेल और फोन पर धमकी की जा रही है. वे मुझसे यह मुद्दा छोड़ने या फिर बाबरी मस्जिद दोबारा बनवाने के पक्ष में बोलने को कहने कह रहे हैं.' इसके साथ ही वह कहते हैं कि उन्हें अपने वापस खींचने के लिए पैसों तक के ऑफर मिल रहे हैं. आजम कहते हैं कि उन्होंने इस संबंध में पुलिस में FIR भी दर्ज कराई है, लेकिन उन्होंने पुलिस से अब तक कोई सुरक्षा कवर नहीं मिला है.

बता दें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी को प्रचंड बहुमत मिलने के बाद योगी आदित्यनाथ के सीएम बनने और आयोध्या विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट द्वारा सभी पक्षों से मिलकर आपस में यह विवाद सुलझाने के निर्देश के बाद से ही राम मंदिर निर्माण की बातें एक बार फिर जोरशोर से उठने लगी हैं. ऐसे में आजम खान की यह कोई कोशिश इसी कड़ी के हिस्से के रूप में देखी जा रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें