scorecardresearch
 

मौलाना की मुसलमानों से अपील- होली पर देरी से अदा करें जुमे की नमाज

उन्होंने कहा कि ये होली और नमाज एक ही दिन हैं, ऐसे में मुसलमानों को सुझाव है कि जो मस्जिदें मिली-जुली आबादी में हैं, वहां नमाज का वक्त थोड़ा बढ़ा लिया जाए.

X
प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो

रंगों का त्योहार होली इस बार 2 मार्च को मनाया जाएगा. इस दिन जुमा है और देशभर के मुसलमान विशेष नमाज अदा करते हैं. ऐसे में होली और नमाज का सही तरीके से समापन हो जाए, इसके लिए लखनऊ के एक मौलाना ने बड़ी पहल की है.

लखनऊ के सबसे बड़े सुन्नी मौलाना ख़ालिद रशीद फिरंगी ने हिंदू-मुस्लिम एकता की मिसाल पेश की है. उन्होंने होली के त्योहार को देखते हुए मुसलमानों से जुमे की नमाज का वक्त आगे बढ़ाने की अपील की है. ऐसा पहली बार होगा जब जुमे की नमाज का वक्त आगे बढ़ाया जाएगा ताकि होली खेलने वाले होली खेल सकें और उसके बाद जुमे की नमाज अदा की जाए.

इस संबंध में उनकी तरफ से एक लेटर जारी किया गया है. मौलाना ख़ालिद राशीद फिरंगी ने कहा है कि 2 मार्च को देशभर में होली मनाई जाएगी. इसी दिन जुमा है और पूरे देश में मुस्लिम जुमे की नमाज अदा करेंगे. उन्होंने कहा कि ये दोनों चीजें एक दिन होंगी, ऐसे में मुसलमानों को सुझाव है कि जो मस्जिदें मिली-जुली आबादी में हैं, वहां नमाज का वक्त थोड़ा बढ़ा लिया जाए. ताकि होली खेलने वालों और नमाज पढ़ने वालों को कोई परेशानी न हो.

ईदगाह के इमाम मौलाना ख़ालिद रशीद फिरंगी ने बताया कि ऐशबाग स्थित ईदगाह में जुमे की नमाज दोपहर 1.45 बजे अदा की जाएगी, जबकि अब तक यहां हर शुक्रवार को दोपहर 1 बजे नमाज होती है.

ये पहली बार है जब किसी बड़े मुस्लिम धर्म गुरु ने होली के त्योहार को देखते हुए जुमे की नमाज के वक्त में घंटे भर की तब्दीली की हो. इस तब्दीली का असर यह कि दोनों पक्षों के बीच सद्भावनापूर्ण माहौल होगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें