scorecardresearch
 

हाथरस: पुलिस के साथ रात में जाने से पीड़ित परिवार का इनकार, अब सुबह लखनऊ के लिए होंगे रवाना

पीड़ित परिवार अब सोमवार को सुबह पुलिस अभिरक्षा में लखनऊ के लिए प्रस्थान करेगा. जानकारी के मुताबिक सोमवार सुबह 5 से 5.30 बजे के बीच पीड़ित परिवार मजिस्ट्रेट और CO के साथ लखनऊ निकलेंगे.

हाथरस में पीड़ित परिवार के घर पर तैनात पुलिस (फोटो-पीटीआई) हाथरस में पीड़ित परिवार के घर पर तैनात पुलिस (फोटो-पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • रात में जाने से पीड़ित परिवार का इनकार
  • अब सोमवार सुबह जाएंगे लखनऊ
  • हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ में है सुनवाई

हाथरस के पीड़ित परिवार ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए पुलिस के साथ रात के वक्त में लखनऊ जाने से इनकार कर दिया है. बता दें कि सोमवार को हाईकोर्ट में हाथरस मामले की सुनवाई है. 

इस सुनवाई में शामिल होने के लिए हाथरस के पीड़ित परिवार को पुलिस की सुरक्षा में रविवार को लखनऊ जाना था, लेकिन पीड़ित परिवार ने पुलिस की ओर से हुई देरी के बाद सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए रात में लखनऊ जाने से इनकार कर दिया है. 

ताजा जानकारी के मुताबिक पीड़ित परिवार अब सोमवार को सुबह पुलिस अभिरक्षा में लखनऊ के लिए रवाना होगा. जानकारी के मुताबिक सोमवार सुबह 5 से 5.30 बजे के बीच पीड़ित परिवार मजिस्ट्रेट और CO के साथ लखनऊ निकलेंगे.

पीड़िता के परिवार के जो सदस्य लखनऊ जा रहे हैं, उनमें पीड़िता के दोनों भाई, पिता, माता और भाभी शामिल हैं. सोमवार को हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ में सुनवाई के दौरान ये सभी सदस्य मौजूद रहेंगे. 

यूपी पुलिस और प्रशासन की एक टीम इन्हें कड़ी सुरक्षा में लखनऊ लेकर जाएगी. पुलिस की इस टीम में 2 सीनियर अधिकारी, एक सीओ और एक मजिस्ट्रेट शामिल हैं. ये अधिकारी पीड़ित परिवार को लखनऊ ले जाने के दौरान सुरक्षा की निगरानी करेंगे. 

गौरतलब है कि एक अक्टूबर को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने हाथरस की घटना का स्वत: संज्ञान लेते हुए प्रमुख सचिव गृह अवनीश अवस्थी, डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी, एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार के अलावा हाथरस के डीएम प्रवीण कुमार और एसपी रहे विक्रांत वीर को तलब किया था. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें