scorecardresearch
 

यूपी में रोज बन रहे गुंडाराज के रिकॉर्ड, गोरखपुर में हत्या पर प्रियंका का तंज

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कानून-व्यवस्था को लेकर सवाल उठाए हैं.

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी (फाइल फोटोः ट्विटर) कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी (फाइल फोटोः ट्विटर)

  • प्रियंका का तीखा वार- हर दिन बन रहा गुंडाराज का रिकॉर्ड
  • अखिलेश यादव ने बताया दर्दनाक और दुखद, जताई संवेदना

उत्तर प्रदेश में आपराधिक घटनाएं बढ़ रही हैं. उत्तर प्रदेश की पुलिस अपराधियों के सफाए के लिए ऑपरेशन क्लीन चला रही है और अपराधी एक के बाद एक अपहरण और हत्या की जघन्य वारदात को अंजाम दे रहे हैं. अब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कर्मभूमि गोरखपुर में पांचवीं कक्षा के छात्र की अपहरण के बाद हत्या किए जाने का मामला सामने आया है.

इस घटना को लेकर विपक्षी कांग्रेस और समाजवादी पार्टी ने योगी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कानून-व्यवस्था को लेकर सवाल उठाए हैं. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर सीएम योगी आदित्यनाथ पर हमला बोला है. प्रियंका गांधी ने सवालिया लहजे में कहा है कि क्या यूपी के मुखिया ने खबरें देखना छोड़ दिया है? क्या गृह विभाग में बैठे लोगों के सामने ये खबरें नहीं जाती?

गोरखपुर में एक करोड़ की फिरौती के लिए 5वीं के छात्र की हत्या

उन्होंने आरोप लगाया है कि यूपी में हर दिन गुंडाराज के नए रिकॉर्ड बन रहे हैं. सीएम के गृहक्षेत्र में अपहरण की घटना घटी है. कासगंज में हत्याकांड. लेकिन दिखावे के लिए कुछ ट्रांसफर के अलावा और कुछ होता ही नहीं है. जंगलराज बढ़ता जा रहा है. वहीं, सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने ट्वीट कर गोरखपुर से अपहृत बच्चे की हत्या के समाचार को दर्दनाक और दुखद बताया है. अखिलेश ने बच्चे के परिजनों के प्रति संवेदन व्यक्त की और भाजपा सरकार को लेकर सवाल भी खड़े किए.

आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने भी योगी सरकार पर हमला बोला. संजय सिंह ने कहा कि योगी जी के जनपद गोरखपुर में बच्चे का अपरहण हुआ, हत्या भी हो गई. यूपी में अपराध की बाढ़ आई है. उन्होंने कहा कि एक घटना का शोक खत्म नहीं होता कि दूसरी आ जाती है. एएपी के राज्यसभा सांसद ने सवालिया लहजे में कहा है कि क्या वादा किया था? क्या हाल बना दिया योगी जी? बता दें कि यूपी में अपहरण की यह तीसरी और अपहरण के बाद हत्या की यह दूसरी वारदात है. गोरखपुर से पहले कानपुर और गोंडा में भी अपहरण की घटनाएं सामने आई थीं. कानपुर में भी अपहर्ताओं ने अपहरण के बाद लैब टेक्निशियन की हत्या कर दी थी. जबकि गोंडा में मासूम बच्चे को पुलिस ने अपहर्ताओं के चंगुल से सुरक्षित बचा लिया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें