scorecardresearch
 

UP: बेटी को विदा करने सड़क तक गए पिता और पड़ोसी को कार ने रौंदा, मौत

नारायण सिंह अपनी बेटी को विदा करने के लिए सड़क तक आए थे. नारायण सिंह के साथ उनके पड़ोसी सुरेंद्र सिंह भी आए थे. नारायण सिंह ने अपनी बेटी को टेम्पो में बैठाकर रवाना कर दिया. इसी बीच नारायण सिंह और सुरेंद्र सिंह को पीछे से आई एक कार ने रौंद दिया.

सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

  • मौत की सूचना से परिवार में मचा कोहराम
  • पुलिस ने शवों को पोर्टमॉर्टम के लिए भेजा

उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में झकझोर देने वाली घटना सामने आई है. फिरोजाबाद जिले के सिरसागंज में बेटी को सड़क तक विदा करने आए पिता और पड़ोसी चाचा को अज्ञात वाहन ने रौंद डाला. इस घटना में दोनों की मौत हो गई. मृतक की पहचान सिरसागंज क्षेत्र के सराय सेख निवासी नारायण सिंह और उनके पड़ोसी सुरेंद्र सिंह के रूप में हुई है. नारायण सिंह अपनी बेटी को विदा करने के लिए आए थे. उनके साथ सुरेंद्र सिंह भी आए थे.

नारायण सिंह ने अपनी बेटी को टेम्पो में बैठाकर रवाना कर दिया. जब बेटी जा रही थी, तो नारायण सिंह उसको देख रहे थे. नारायण सिंह के साथ उनके पड़ोसी सुरेंद्र सिंह भी खड़े थे. इस बीच पीछे से आई एक कार ने दोनों को रौंद दिया. इसमें दोनों बुरी तरह जख्मी हो गए. इसकी सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और दोनों को शिकोहाबाद हॉस्पिटल पहुंचाया. हालांकि उनको बचाया नहीं जा सका.

डॉक्टरों ने नारायण सिंह और सुरेंद्र सिंह को मृत घोषित कर दिया. दोनों की मौत की सूचना पर परिवार में कोहराम मच गया. पुलिस ने दोनों के शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है. पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है. हालांकि अभी तक किसी की गिरफ्तारी की सूचना नहीं है.

इसे भी पढ़ें--- महंत नृत्य गोपाल दास बने राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष, नृपेंद्र होंगे निर्माण समिति के चेयरमैन

इसके अलावा बुधवार को उत्तर प्रदेश के महोबा जिले में चरखारी-करहरा कला सड़क मार्ग पर रोडवेज बस की टक्कर से टेम्पो सवार एक युवक की मौत हो गई है, जबकि पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. नगर पुलिस अधीक्षक (सीओ) जटाशंकर राव ने बताया कि यह हादसा बुधवार सुबह उस समय हुआ, जब कुछ छात्र-छात्राएं टेम्पो में सवार होकर परीक्षा देने जा रहे थे.

इसे भी पढ़ें--- ऐसा मंदिर बने जो कराची और इस्लामाबाद से भी दिखाई दे: राम विलास वेदांती

इस हादसे में मरने वाले की पहचान 26 वर्षीय वीरू कुमार के रूप में हुई है. वह नोएडा का रहने वाला बताया जा रहा है. इसके अलावा चार छात्र-छात्राओं सहित पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. उन्होंने बताया कि जिलाधिकारी अवधेश कुमार तिवारी ने भी अस्पताल पहुंचकर घायलों का हालचाल जाना और उनको इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज झांसी भेजा गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें