scorecardresearch
 

'कितने भी लड्डू खा लें योगी, गोरखपुर का बदला नहीं है राज्यसभा चुनाव': मायावती

मायावती ने कहा कि बीजेपी ज्यादा खुश न हो. हमने बीजेपी को गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में धूल चटाई थी. राज्यसभा चुनाव में बीजेपी की जीत गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव में मिली हार का बदला नहीं है. इसकी वजह यह है कि लोकसभा उपचुनाव में जनता ने सीधे वोट दिया था, जबकि इसमें विधायकों ने मतदान किया.

बीएसपी सुप्रीमो मायावती बीएसपी सुप्रीमो मायावती

राज्यसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी से गठबंधन के बावजूद मिली हार के बाद रविवार को बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) सुप्रीमो मायावती ने बीजेपी पर करारा हमला बोला है. उन्होंने कहा कि बीजेपी की अराजकता जारी है. बीजेपी की गरीब, मजदूर, किसान, व्यापारी और जन विरोधी नीतियों के खिलाफ अब बीएसपी नई रणनीति के तहत काम करेगी.

गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में बीएसपी ने बीजेपी को हराने वाले का समर्थन करने का फैसला लिया. लिहाजा लोकसभा उपचुनाव में बसपा ने सपा का समर्थन किया और नतीजा यह हुआ कि गोरखपुर और फूलपुर में बीजेपी को दिन में तारे नजर आए. राज्यसभा चुनाव में नौ सीटों पर जीत दर्ज करने के बाद बीजेपी द्वारा जश्न मानने पर भी मायावती ने तंज कसा.

उन्होंने कहा कि बीजेपी ज्यादा खुश न हो. हमने बीजेपी को गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में धूल चटाई है. बीजेपी को करारा जवाब देते हुए उन्होंने यह भी कहा कि सीएम योगी चाहे जितने लड्डू खा लें, लेकिन राज्यसभा चुनाव में बीजेपी की जीत गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव में मिली हार का बदला नहीं है. इसकी वजह यह है कि लोकसभा उपचुनाव में जनता ने सीधे वोट दिया था, जबकि इसमें विधायकों ने मतदान किया.

मायावती ने कहा कि गोरखुपर और फूलपुर में चुनाव में मिली हार के बाद राज्यसभा चुनाव में बीजेपी ने साजिश रची. राज्यसभा चुनाव में बीजेपी हेराफेरी, खरीद-फरोख्त और सरकारी मशीनरी के दुरुपयोग करने से बाज नहीं आई. बीजेपी ने राज्यसभा चुनाव में जमकर धन-बल का इस्तेमाल किया. उन्होंने कहा कि बीजेपी की अराजकता की वजह से राज्यसभा चुनाव में बसपा उम्मीदवार को हार का सामना करना पड़ा.

बसपा सुप्रीमो ने कहा कि बीजेपी सरकार के पास सीबीआई और ईडी जैसे हथियार हैं जिसके जरिये वे विपक्ष को डराने की कोशिश कर रहे हैं. बीजेपी के तमाम हथकंडों के बावजूद बसपा के उम्मीदवार भीमराव अंबेडकर को ज्यादा वोट मिले हैं. राज्यसभा चुनाव में बसपा को हराने के लिए बीजेपी ने अपनी पूरी ताकत लगा दी. वहीं बसपा के एक उम्मीदवार ने दगाबाजी की.

मायावती ने कहा कि बीजेपी के एक दलित विधायक ने अपनी आत्मा की आवाज पर बसपा उम्मीदवार को दिया. वहीं बसपा प्रमुख मायावती ने राज्यसभा चुनाव में अपनी पार्टी के उम्मीदवार को वोट देने के लिए कांग्रेस और सपा के विधायकों का अभार जताया. उन्होंने कहा कि राज्यसभा चुनाव में बसपा उम्मीदवार को शिकस्त देने के लिए बीजेपी ने तमाम हथकंडे अपनाए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें