scorecardresearch
 

योगी सरकार का सख्त फैसला, 15 दिन में मंत्रियों को देना होगा संपत्ति का ब्यौरा

यूपी के 21वें मुख्यमंत्री के तौर पर योगी आदित्यनाथ ने कार्यभार संभाल लिया. रविवार को अपने मंत्रियों के साथ औपचारिक मीटिंग की. इसके बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस की. वहां उन्होंने मीडिया के कुछ सवालों का जवाब देते हुए कहा- हम सबका विकास करेंगे.

शपथ ग्रहण समारोह के दौरान की तस्वीर शपथ ग्रहण समारोह के दौरान की तस्वीर

यूपी के 21वें मुख्यमंत्री के तौर पर योगी आदित्यनाथ ने कार्यभार संभाल लिया. रविवार को अपने मंत्रियों के साथ औपचारिक मीटिंग की. इसके बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस की. वहां उन्होंने मीडिया के कुछ सवालों का जवाब देते हुए कहा- हम सबका विकास करेंगे. सब वादे पूरे होंगे. इस दौरान योगी सरकार की ओर से एक बड़ा ऐलान किया गया. यूपी की बीजेपी सरकार ने अपने सभी मंत्रियों से 15 दिन के भीतर प्रॉपर्टी का पूरा ब्यौरा मांगा है. बता दें कि योगी के साथ लखनई में 46 मंत्रियों ने भी शपथ ली है.

सबको देना होगा प्रॉपर्टी का ब्यौरा
यूपी सरकार की ओर से पक्ष रखने के लिए योगी ने श्रीकांत शर्मा और सिद्धार्थ नाथ सिंह को प्रवक्ता नियुक्त किया है. दोनों मंत्री भी हैं. योगी के जाने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में श्रीकांत शर्मा ने कहा- हमने अपने सभी मंत्रियों से प्रॉपर्टी सार्वजनिक करने के लिए कहा है. इसके लिए 15 दिन का वक्त दिया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×