scorecardresearch
 

राम मंदिर निर्माण के लिए मिले 22 करोड़ रुपये के चेक बाउंस, ट्रस्ट ने बताया ये कारण

अयोध्या में बन रहे राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण के लिए 15 जनवरी से 27 फरवरी के बीच पूरे देश में समर्पण निधि अभियान चलाया गया था. इस अभियान के दौरान 5 हजार करोड़ रुपए की राशि जुटने का अनुमान है. हालांकि, इसमें से अभी तक 22 करोड़ रुपए के चेक बाउंस हो गए हैं.

X
अयोध्या में राम मंदिर का संभावित मॉडल (फाइल फोटो-PTI) अयोध्या में राम मंदिर का संभावित मॉडल (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 22 करोड़ के 15,000 चेक बाउंस
  • ट्रस्ट ने तकनीकी खामी बताई

अयोध्या में राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण के लिए रकम जुटाने के लिए समर्पण निधि अभियान चलाया गया था. इस अभियान में मिले 15 हजार चेक बाउंस हो गए हैं. सूत्रों ने बताया कि इन चेक की कुल रकम 22 करोड़ रुपए के आसपास है. इस बारे में जब श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट से पूछा गया, तो उन्होंने इसके पीछे तकनीकी खामी को वजह बताया है.

इतनी बड़ी रकम के चेक बाउंस होने और उसके पीछे तकनीकी खामी सामने आने के बाद एक टीम बनाई है. ये टीम उन दानदाताओं से संपर्क कर रही है, जिनके चेक बाउंस हुए हैं. श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य अनिल मिश्र की मानें तो जो चेक बाउंस हुए हैं उनके पीछे कोई न कोई तकनीकी कारण जिम्मेदार हैं. उन्होंने बताया कि जिन दानदाताओं के चेक बाउंस हुए थे, उनमें से कुछ ने नए चेक दे दिए हैं, जिसमें से कुछ के चेक क्लियर भी हो गए हैं. जबकि बाकी लोगों से भी संपर्क किया जा रहा है. 

5 हजार करोड़ रुपए जुटने का अनुमान
राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण के लिए 15 जनवरी से 27 फरवरी तक पूरे देश में समर्पण निधि अभियान चलाया गया था. इस दौरान 9 लाख कार्यकर्ताओं ने 1,75,000 टोलियां बनाकर घर-घर जाकर 10 करोड़ परिवारों से संपर्क किया. इनके द्वारा जमा रकम को 38,125 कार्यकर्ताओं के माध्यम से बैंक में जमा किया गया. इनके बीच समन्वय के लिए 49 नियंत्रण केंद्र बनाए गए. जबकि दिल्ली स्थित मुख्य केंद्र पर दो चार्टर्ड अकाउंटेंट की निगरानी में 23 लोगों की टीम ने पूरे भारत से जमा राशि और डिपॉजिट राशि पर निगरानी रखी. इस पूरे अभियान के दौरान 5000 करोड़ से ज्यादा की धनराशि श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के खाते में जमा हुई है. हालांकि, अभी ऑडिट होना बाकी है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें